धर्मगुरू के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे से गूंजा इस्लामिया ग्राउंड, जानिए क्या है मामला

बरेली: गाजियाबाद के धर्मगुरू नरसिंहानंद सरस्वती और शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी के खिलाफ शुक्रवार को बरेली की सड़कों पर जनसैलाब उमड़ पड़ा।

धर्मगुरू के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे से गूंजा इस्लामिया ग्राउंड, जानिए क्या है मामला

जुमा नमाज के बाद मुस्लिम समुदाय के लोग विभिन्न मस्जिदों से सीधा इस्लामियां ग्राउंड को कूच करते हुए पहुंच गए।

धर्मगुरू के खिलाफ लगाए मुर्दाबाद के नारे

धर्मगुरू के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाए गए। हाथों में तख्तियां लेकर भीड़ ने धर्मगुरू की गिरफ्तारी, फांसी की सजा दिलाने की मांग दी। जमात रजा मुस्तफा की अगुवाई में काफी बड़ी मात्रा में भीड़ दिखाई दी।

धर्मगुरू के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे से गूंजा इस्लामिया ग्राउंड, जानिए क्या है मामला

जमात रजा मुस्तफा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सलमान हसन खां कादरी ने कहा कि पैगंबरे इस्लाम की शान में धर्मगुरू नरसिंहानंद ने गुस्ताखी की है। करोड़ों मुसलमानों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाया है।

‘पैगंबर का अपमान नहीं सहेगा मुस्लिम’

मुसलमान सब कुछ बर्दाश्त कर सकता है, लेकिन पैगंबरे इस्लाम की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं कर सकता है। मुसलमानों ने इस प्रदर्शन से यह दिखा दिया है कि वो खामोश नहीं है। अपने पैगंबरे के लिए चुप नहीं बैठेगा।

वसीम रिजवी के खिलाफ खोला मोर्चा 

पहले शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी और अब महंत की वजह से देश में माहौल बिगाड़ने का काम किया जा रहा है।

पैगंबरे इस्लाम की शान में गुस्ताखी करने वालों के खिलाफ काजी उल हिंद मुफ्ती असजद रजा खां कादरी की कयादत में तमाम मुसलमानों ने जुमा नमाज के बाद इस्लामियां ग्राउंड में इक्ट्ठा हुआ।

तमाम लोग दरगाह आला हजरत से पैदल मार्च करते हुए इस्लामियां ग्राउंड पहुंचे। छह सूत्रीय ज्ञापन राष्ट्रपति को संबोधित एसएसपी, एडीएम को सौपा है। इस मौके पर एसएसपी, एसपी सिटी, एडीएम, सिटी मजिस्ट्रेट, सीओ अधिकारी, पुलिस, पीएसी तैनात रही।

मुख्‍तार अंसारी को इस बड़े केस में मिली जमानत

Previous article

गाजीपुर में महिला का शव मिलने से इलाके में सनसनी,पुलिस जांच मे जुटी

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured