india vs chaina भारत की कार्रवाई से घबराया चीन सीमा से पीछे हटाई सेना..

लद्दाख सीमा को लेकर भारत और चीन के बीच लंब समय से विवाद चल रहा है, लेकिन पूरी दुनिया को कोरोना में उलझा कर चीन ने सीमा पर भारत से आंखे दिखाना शुरू कर दी है। जिसका भारतीय सेना सामने से जवाब दे रही है। जिसकी वजह से चीन ने अब अपने कदम पीछे हटाना शुरू कर दिया है।

chaina 2 भारत की कार्रवाई से घबराया चीन सीमा से पीछे हटाई सेना..र्वी लद्दाख में चीन के सैनिकों ने कई बिंदुओं को छोड़ा है। सरकार के शीर्ष सूत्रों ने बताया कि गलवन क्षेत्र में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी यानी पीएलए ने पैट्रोलिंग प्वाइंट 15 और हॉट स्प्रिंग्स क्षेत्र से ढाई किलोमीटर पीछे हटी है जबकि भारत ने अपने सैनिकों को कुछ पीछे हटाया है।
इससे पहले चार जून को भी ऐसी रिपोर्ट आई थी कि चीनी सेना दो किलोमीटर पीछे हट गई है। चीन ने उक्‍त कदम छह जून को लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की बैठक से पहले उठाए थे।

इस पहलकदमी से पूर्वी लद्दाख के गलवां घाटी में भारत और चीन के बीच उपजे तनाव में कमी के संकेत मिलने लगे हैं। पूर्वी लद्दाख के एलएसी के पास चीनी सैनिकों के जमावड़े में बीते कुछ दिनों कमी आयी है। चीन कुछ चुनिंदा जगहों से धीरे धीरे अपनी सेनाओं की संख्या कम कर रहा है।बताया जाता है कि विदेश मंत्रालय के स्तर पर हुई बातचीत में बनी सहमति को सीमा पर पहुंचने से हालात को सामान्य बनाने में काफी मदद मिली है।

इन दोनों बैठकों में पीएम नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति शी शिनफिंग के बीच दो अनौपचारिक बातचीतों में हर हाल में सीमा पर शांति बहाली बनाए रखने के मिले निर्देश का जिक्र किया गया था।

दोनों पक्षों में सेना हटाने के लिए हुई बातचीत काफी सकारात्मक रही और चीनी पक्ष ने आपसी विश्वास बढ़ाने पर जोर दिया. गलवान वैली के इलाके में चीन ने जो वेसेल और नौकाएं तैनात की थीं, उसे हटा लिया गया है।

कुछ-कुछ जगहों पर दोनों देश की फौज 2 किमी तक पीछे हटी है. अब आगे कमांडर स्तर की बातचीत होनी है ताकि सीमा पर तनाव खत्म किया जा सके। इन सभी हलचलों के बीच भारतीय फौज सावधान है और पल-पल की स्थिति पर नजर बनाए हुए है। भारत की ओर से बड़े स्तर पर हर किसी स्थिति से निपटने की तैयारी की गई है।

https://www.bharatkhabar.com/kashmiri-pandit-shot-dead-by-terrorists-in-anantnag-j-k/
चीन की तरफ से जब सेना वापस लेने की खबर आयी है। उससे सीमा पर विवाद खत्म होने के आसार नजर आ रहे हैं। उम्मीद की जा रही है कि बातचीत से ये मामला बहुत जल्द सुलझा लिया जाएगा।

ईरान के हत्थे चढ़ा सुलेमानी का हत्यारा, अमेरिका के जासूस को मिलेगी खौंफनाक सजा..

Previous article

21 जून को लगने वाला सूर्य ग्रहण किस राशि पर पड़ेगा भारी, जानिए आपका क्या होगा..

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured