September 25, 2022 4:39 pm
featured यूपी

लाल किले की प्राचीर से पीएम मोदी ने फहराया तिरंगा, ट्वीट कर दी देशवासियों को शुभकामनाएं

लाल किले की प्राचीर से पीएम मोदी ने फहराया तिरंगा, ट्वीट कर दी देशवासियों को शुभकामनाएं

लखनऊः आजादी के पावन पर्व देश के 75वें स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी देशवासियों को बधाई दी है। पीएम मोदी ने आज इस अवसर पर ट्वीट करते हुए लिखा, “आप सभी को 75वें स्वतंत्रता दिवस की बहुत-बहुत बधाई। आजादी के अमृत महोत्सव का यह वर्ष देशवासियों में नई ऊर्जा और नवचेतना का संचार करे। जय हिंद।”

आठवीं बार फहरा रहे हैं पीएम मोदी तिरंगा

स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर पर आठवीं बार तिरंगा फहराया। इस दौरान उन्होंने संबोधन की शुरूआत जनता को शुभकामनाएं देते हुए किया। पीएम ने कहा कि देश को आगे बढ़ाने वालों का अभिनंदन करता हूं। देश महापुरुषों का ऋणी है।

आत्मनिर्भर बना भारत

पीएम मोदी ने ओलंपिक विजेताओं का ताली बजाकर स्वागत किया। उन्होंने अपने संबोधन में कोरोना महामारी और उससे निपटने को लेकर देशवासियों के सहयोगा और प्रयास की सराहना की। पीएम ने वैक्सीनेशन को लेकर कहा कि दुनिया में सबसे बड़ा वैक्सीन कार्यक्रम भारत में चल रहा है। भारत को वैक्सीन के लिए किसी और देश पर निर्भर नहीं होना पड़ा।

बंटवारे का दर्ज आज भी झलकता हैः पीएम

पीएम मोदी ने कहा कि भारत के पहले प्रधानमंत्री नेहरू जी हों, देश को एकजुट राष्ट्र में बदलने वाले सरदार पटेल हों या भारत को भविष्य का रास्ता दिखाने वाले बाबासाहेब अम्बेडकर, देश ऐसे हर व्यक्तित्व को याद कर रहा है, देश इन सबका ऋणी है।

उन्होंने कहा कि हम आजादी का जश्न मनाते हैं, लेकिन बंटवारे का दर्द आज भी हिंदुस्तान के सीने को छलनी करता है। यह पिछली शताब्दी की सबसे बड़ी त्रासदी में से एक है। कल ही देश ने भावुक निर्णय लिया है। अब से 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप में याद किया जाएगा।

अपने संबोधन में पीएम मोदी ने एक नया मंत्र जोड़ा। पीएम ने कहा कि सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के साथ सबका प्रयास जारी है।

Related posts

BJP ने जारी किया UP का चुनावी घोषणा पत्र , किए कई लुभावने वादे

shipra saxena

बड़ी खबर: उत्तराखंड आने के लिए जरूरी है RT-PCR की निगेटिव रिपोर्ट

Nitin Gupta

संगम नगरी में योगी की धर्मयात्रा के क्या हैं मायने

Pradeep sharma