Breaking News featured देश

दो कोच की आपसी रंजिश में गई पांच की जान, रोहतक के अखाड़ें में हुआ खूनी दंगल

rohtak दो कोच की आपसी रंजिश में गई पांच की जान, रोहतक के अखाड़ें में हुआ खूनी दंगल

हरियाणा के रोहतक में शुक्रवार को एक अखाड़े में हुई अंधाधुंध फायरिंग में 3 कुश्ती कोच और एक महिला पहलवान समेत 5 लोगों की मौत हो गई जबकि 3 लोग घायल हो गए।

 

शुक्रवार को रोहतक के मेहर सिंह कुश्ती अखाड़े में अचानक हुई अंधाधुंध फायरिंग से अफरातफरी मच गई.. गोलियों की आवाज़ से पूरा इलाका गूंज उठा। ऐसे में पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए, हालांकि शुरूआती जांच में इसके पीछे पुरानी रंजिश माना जा रहा है, लेकिन फिर भी पुलिस हर एंग्ल से इस मामले की जांच कर रही है।

दरअसल, जाट कॉलेज के पास मेहर सिंह नाम के कुश्ती अखाड़े में बीते एक साल से मृतक मनोज कुश्ती सिखाते थे। कुश्ती सिखाने के लिए अखाड़ा में 1 साल का समय दिया जाता है। जबकि मनोज से पहले मुख्य आरोपी सुखविंदर मोर अखाड़ा का कोच था। ऐसे में दोनों के बीच अखाड़े को लेकर बीते कुछ दिनों से विवाद होने की चर्चा है।

मनोज अखाड़े के पास ही पहली मंजिल में पत्नी और बेटे के साथ रहते थे। नीचे आरोपी सुखविंदर रहता था। इसी को लेकर सुखविंदर नाराज था। इसी के चलते शुक्रवार को वो अपने साथियों के साथ मनोज के घर पहुंचा और मनोज, उनकी पत्नी और 3 साल के बेटे को गोली मार दी।

घर के नीचे यूपी की महिला पहलवान कुछ साथियों के साथ बैठी थी।  गोली की आवाज सुनकर वो कोच मनोज के घर की ओर भागी। आरोपी ने महिला पहलवान और उसके साथ बैठे लोगों पर फायरिंग शुरू कर दी। जिसका शिकार महिला पहलवान और उनके दो साथियों की मौत हो गई। जबकि कोच मनोज के बेटे समेत 3 लोग अस्पताल में भर्ती है। जिनकी हालत गंभीर बताई जा रही है।
वारदात की खबर मिलते ही शहर में हड़कंप मच गया। फिलहाल पुलिस अखाड़े के सभी एंट्री प्वाइंट के अलावा प्रमुख रास्तों के सीसीटीवी फुटेज खंगालने में जुटी है ताकि बदमाशों तक पहुंचा जा सके। फायरिंग में घायल हुए बाकी लोगों को करीब के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनका इलाज जारी है।

Related posts

जानिए: क्यों दूल्हा बनने से पहले पति पहुंचा पुलिस थाने

Rani Naqvi

बड़े मंगल पर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा की अच्छी पहल

Aditya Mishra

बरेली: जानिए कैसे दिव्यांग बच्चों की कमजोरी बन गई उनकी ताकत, ‘पूजा सेवा संस्थान’ की सराहनीय पहल, पढ़ें पूरी खबर

Shailendra Singh