September 21, 2021 5:52 am
Uncategorized

कोरोना वायरस को लेकर रोज नई रिसर्च, इस  ब्लड ग्रुप वालों को कोरोना का सबसे ज्यादा खतरा

बल्ड ग्रुप कोरोना वायरस को लेकर रोज नई रिसर्च, इस  ब्लड ग्रुप वालों को कोरोना का सबसे ज्यादा खतरा

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (COVID 19) को लेकर रोज नई रिसर्च और बातें सामने आ रही हैं। हुबेई प्रांत के जिनइंतान अस्पताल में हुई रिसर्च में नई बात सामने आई है। रिचर्स में कहा जा रहा है कि कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा संक्रमित होने में ब्लड ग्रुप A के लोग हैं। जिनका ब्लड ग्रुप O है, उन्हें कोरोना वायरस से खतरा थोड़ा कम है।

चीन के वैज्ञानिकों ने यह अध्ययन वुहान में किया है। सबसे पहले वुहान से ही कोरोना वायरस कोविड-19 का संक्रमण फैला था। वुहान में वैज्ञानिकों ने कोरोना वायरस से संक्रमित 2,173 लोगों पर अध्ययन किया था। इनमें से 206 लोगों की मौत कोरोना के कारण हो गई थी। ये सभी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज हुबेई के 3 अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती थे।

इससे पहले भी रिसर्च में यह बात सामने आई है कि ब्लड ग्रुप A, B और AB वालों को ब्लड ग्रुप O की तुलना में दिल की बीमारियां होने का खतरा ज्यादा रहता है। कोरोना वायरस की वजह से मारे गए 206 लोगों में से 85 लोगों का ब्लड ग्रुप A था, वहीं 52 लोग ब्लड ग्रुप O वाले थे। अनुसंधानकर्ताओं ने यह परिणाम निकाला कि कोरोना वायरस से मरने की सबसे ज्यादा आशंका A ब्लड ग्रुप वालों में है।

वैज्ञानिकों के मुताबिक जब सार्स-सीओवी-2 का हमला हुआ था, तब भी ब्लड ग्रुप O के लोग इससे कम प्रभावित हुए थे जबकि अन्य ब्लड ग्रुप के लोगों पर इसका असर अधिक था। हालांकि इस रिचर्स का फाइनल रिव्यू अभी तक नहीं हुआ है। वैज्ञानिकों का कहना है कि इस रिसर्च से कोरोना वायरस जैसी खतरनाक बीमारी का इलाज ढूंढने में आसानी होगी। ब्लड ग्रुप कोई सा भी हो, कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को लेकर सावधानियां रखना आवश्यक है।

Related posts

मोदी ने जीएसटी पर तैयारियों की समीक्षा की

bharatkhabar

The couple that quit their jobs to go on a six months’ road trip

bharatkhabar

shipra saxena