कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल सौदे को लेकर केंद्र सरकार पर तेज किया हमला

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल सौदे को लेकर केंद्र सरकार पर तेज किया हमला

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल सौदे को लेकर केंद्र सरकार पर हमले तेज करते हुए बीते शनिवार को कहा कि एयरोस्पेस में हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) एक सामरिक संपत्ति है। उन्होंने कहा, देश एचएएल का कर्जदार है। एचएएल के बेंगलुरु स्थित मुख्यालय के नजदीक मिंस्क स्क्वॉयर में राहुल ने कंपनी के मौजूदा एवं पूर्व कर्मचारियों से बातचीत की। इस मौके पर उन्होंने कहा, एचएएल ने देश के लिए शानदार काम किया है। हमारी हिफाजत करने तथा एक वैज्ञानिक दृष्टिकोण देने के लिए देश इसका कर्जदार है। एचएएल एयरोस्पेस में एक सामरिक संपत्ति है और यह कोई साधारण कंपनी नहीं है।

बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि वह यह समझने के लिए कर्मचारियों के साथ बातचीत कर रहे हैं कि इस सामरिक संपत्ति (एचएएल) को और अधिक प्रभावी कैसे बनाया जाए। ताकि जब हम सत्ता में आए, तब हम इस पर कहीं अधिक पुरजोर तरीके से काम कर सकें। उन्होंने आरोप लगाया है कि फ्रांसीसी एरोस्पेस कंपनी दसाल्ट एविएशन के साथ हुए इस सौदे में एचएएल की अनदेखी की गई।

वहीं गौरतलब है कि कांग्रेस राफेल सौदे में एक निजी कंपनी को फायदा पहुंचाने का आरोप लगा रही है। उसने सरकार से पूछा है कि क्यों सरकारी कंपनी एचएएल को इस सौदे में शामिल नहीं किया गया? कांग्रेस ने मौजूदा एनडीए सरकार पर एचएएल को अनुबंध नहीं देकर कर्नाटक के लोगों से रोजगार छीनने का आरोप भी लगाया है। हालांकि, भाजपा ने इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है।