सीएम रावत ने पुलिस महानिदेशक को धार्मिक निशान उतारे जाने की घटना को लेकर उचित कार्यवाही के निर्देश

सीएम रावत ने पुलिस महानिदेशक को धार्मिक निशान उतारे जाने की घटना को लेकर उचित कार्यवाही के निर्देश

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कुछ दिन पूर्व जनपद चमोली में हेमकुण्ड साहिब यात्रा के वाहनों से सिखों के धार्मिक निशान साहिब को उतारे जाने की घटना को अत्यंत गम्भीरता से लेते हुए पुलिस महानिदेशक को इस प्रकरण का परीक्षण कर उचित कार्यवाही के निर्देश दिये है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि सर्वधर्म समभाव की हमारी परम्परा है। प्रदेश में किसी भी व्यक्ति की धार्मिक भावनाओं एवं आस्था को ठेस न पहुंचे, यह भी सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

 

 

बता दें कि इस सम्बंध में बीते गुरूवार को मुख्यमंत्री आवास में उत्तराखण्ड गुरूद्वारा सेंट्रल कमेटी के अध्यक्ष राम सिंह बेदी के नेतृत्व में कमेटी के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र से भेंट कर उक्त घटना की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि विगत 18 जून, 2018 को हेमकुण्ड यात्रा के दौरान चमोली में एक पुलिस अधिकारी द्वारा वाहनों से सिखों के धार्मिक निशान साहिब को उतारा गया। जिससे उनकी धार्मिक आस्था का अपमान हुआ है। प्रकरण का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक को इस प्रकरण का परीक्षण कर उचित कार्यवाही के निर्देश दिये है।

वहीं इस अवसर पर उत्तराखण्ड गुरूद्वारा सेन्ट्रल कमेटी के तेजिन्द सिंह, हरमिन्दर सिंह लाडी, जसविंदर सिंह खरबंदा, परविन्दर सिंह, विरेन्दर सिंह, नरेन्दर सिंह ग्रोवर, दलजीत सिंह रंधावा व जसप्रीत सिंह ग्रोवर आदि उपस्थित थे। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पंजाब केसरी समाचार पत्र समूह में कार्यरत फोटो जर्नलिस्ट संजय नेगी के पिता हुकुम सिंह नेगी के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत की आत्मा की शांति एवं दुःख की इस घड़ी में उनके परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है।