देश राज्य

कश्मीर से घर लौट रहे प्रवासी मजदूर, जानिए क्या है वजह

प्रवासी मजदूर

Jammu Kashmir: कश्मीर में आंतकवादियों गैर-कश्मीरियों को अपनी दहशत का निशाना बना रहे है। इससे लोगों के साथ गैर-कश्मीरी भी डर गए हैं।

बीते रविवार को कुलगाम जिले में आतंकियों ने 2 बिहार के रहने वाले मजदूरों की हत्या कर दी। इसके बाद से टारगेट किलिंग का  स्थानीय लोगों और प्रवासी मजदूरों में डर का माहौल है। इसकी वजह से अब सभी प्रवासी मजदूर पलायन करने लगे हैं। इसके चलते जम्मू रेलवे स्टेशन पर भारी संख्या में प्रवासी मजदूरों की भीड़ देखने को मिली, जो अपने घर लौटना चाहती है।

हालांकि सामान्य तौर पर प्रवासी मजदूर सर्दियां शुरु होने या फिर दीपावली के त्योहार पर अपने घर लौटते हैं, लेकिन कश्मीर में आतंकवादियों की ओर से किए जा रहे गैर-कश्मीरियों की हत्या होने से वे पहले ही वहां से निकलने की कोशिश में है।

वहीं, कुछ मजदूरों ने कहा कि हम कभी वापस कश्मीर में नहीं जाएंगे, क्योंकि वहां आतंकी धमकी दे रहे हैं और गैर कश्मीरियों पर हमले कर रहे हैं। मजदूरों का कहना है कि उनके पास कोई जमापूंजी भी नहीं है और कुछ ने आरोप लगाया कि जिस ईंट के भट्टे में वे लोग काम करते थे वहां के मालिक ने उनका बकाया पैसा भी नहीं दिया और उसके बिना ही वे लोग घर लौटने को मजबूर हैं क्योंकि बात यहां जान पर बन आई है।

आपको बता दें कि हर साल कश्मीर में कई विकास परियोजनाओं में ज्यादातर प्रवासी मजदूर ही काम कर रहे है।

Related posts

भाजपा नेताओं ने लव जिहाद बता थाना घेरा, हंगामा

Mamta Gautam

जिनके पास भारतीय पासपोर्ट है सरकार उन एनआरआई को आधार कार्ड जारी करने पर करेगी विचार

bharatkhabar

किसान महापंचायत:  27 सितंबर को भारत बंद का एलान, टिकैत ने मंच से लगाए अल्लाहु-अकबर और हर-हर महादेव के नारे

Saurabh