delhi corona भारत में पैर पसार रहा कोरोना का नया स्ट्रेन, 14 और लोगों में मिले लक्षण

बीते दिन कोरोना वायरस के नए तनाव से छह लोगों के संक्रमित पाए जाने के बाद, आज 14 और लोगों में इस नए स्ट्रेन के लक्षण मिले हैं. ये सभी लोग यूनाइटेड किंगडम से भारत लौटे हैं और इनकी रिपोर्ट सार्स-CoV-2 के नए यूके संस्करण जीनोम के लिए सकारात्मक आई है. इससे परेशान होने की बात यह है कि आए दिन भारत में कोरोना का नया स्ट्रेन पैर पसारता हुआ दिख रहा है.

मंत्रालय ने कहा कि राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) में आठ नमूनों में म्यूटेटेड यूके स्ट्रेन का पता चला, एक राष्ट्रीय जैव चिकित्सा जीनोमिक्स (एनआईबीएमजी), कल्याणी (कोलकाता के पास), एक राष्ट्रीय विष विज्ञान संस्थान (एनआईवी) पुणे में, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड न्यूरो साइंसेज हॉस्पिटल (NIMHANS) बेंगलुरु में सात, हैदराबाद में सेंटर फॉर सेलुलर एंड मॉलिक्यूलर बायोलॉजी (सीसीएमबी) में दो और जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायोलॉजी संस्थान (आईजीआईबी) में एक दिल्ली.
मंगलवार को ब्रिटेन के छह स्वदेश लौटने वालों को म्यूटेड यूके वैरिएंट जीनोम के लिए सकारात्मक पाया गया और इन सभी लोगों को संबंधित राज्य सरकारों द्वारा नामित स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं में रूम आइसोलेशन में रखा गया है और उनके करीबी संपर्कों को भी संगरोध के तहत रखा गया है.

सह-यात्रियों, पारिवारिक संपर्कों और अन्य लोगों के लिए व्यापक संपर्क ट्रेसिंग शुरू की गई है. अन्य नमूनों पर जीनोम अनुक्रमण चल रहा है. बीते कुछ वक्त में यूके से जितने भी लोग लौटे हैं उनकी जांच की जा रही है. जो लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जा रहे हैं, उनकी जीनोम स्किवेंसिंग करके कोरोना के नए स्ट्रेन का पता लगाया जा रहा है.
बीते दिन ही स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा इस बात का आश्वासन दिया गया है कि कोरोना वैक्सीन इस स्ट्रेन पर भी कारगर है, ऐसे में घबराने की जरूरत नहीं है. भारत में पिछले करीब एक महीने में 30 हजार के करीब लोग यूके से लौटे हैं, जिसमें से सौ से अधिक कोविड पॉजिटिव पाए गए हैं. सभी को आइसोलेशन में रखा गया है और जीरोम स्किवेंसिंग की जा रही है.

कोरोना से ज्यादा खतरनाक
बताया जा रहा है कि ब्रिटेन में मिला यह स्ट्रेन अधिक खतरनाक हो सकता है और इसी के कारण ब्रिटेन के कई शहरों में लॉकडाउन लगाना पड़ा है। यह 70 फीसदी ज्यादा तेजी से फैलता है. इस वायरस का केस जर्मनी में भी पाया गया है। भारत में भी मिले इस स्ट्रेन के मरीजों को अलग क्वारंटीन किया जा रहा है.

भारत का हाल-
भारत में कोरोना से 1,02,45,326 लोग संक्रमित हो चुके हैं. वहीं इस वायरस की चपेट में आने से अब तक 1,48,475 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. हालांकि, राहत की बात ये है कि 98,33,339 इस वायरस को मात देकर ठीक हो चुके हैं.

नए साल को लेकर राज्य सरकार ने दिए सख्त निर्देश, 31 दिसंबर को लगेगा नाइट कर्फ्यू

Previous article

मेरठ में मिला नए कोरोना स्ट्रेन का राज्य का पहला केस, 2 साल की मासूम हुई संक्रमित

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.