सर्जिकल अटैक के बाद बोले नवाज: हम शांति चाहते हैं

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने शुक्रवार को कहा कि इस्लामाबाद क्षेत्र में शांति चाहता है, लेकिन ‘हम किसी को भी पाकिस्तान पर बुरी नजर रखने की अनुमति नहीं देंगे।’ रेडियो पाकिस्तान के मुताबिक, शरीफ ने यह टिप्पणी जम्मू एवं कश्मीर में और नियंत्रण रेखा पर हाल की स्थिति पर चर्चा के लिए बुलाई गई मंत्रिमंडल की एक बैठक में की।

nawaj-sharif

शरीफ ने कहा कि पाकिस्तान अपने विकास कार्यक्रमों को आगे बढ़ाने के लिए शांति चाहता है, ‘लेकिन मातृभूमि की रक्षा के लिए हर पाकिस्तानी तैयार है।’ प्रधानमंत्री ने कहा कि पूरा देश सशस्त्र बलों के साथ कंधे से मिलाकर कर खड़ा है और ‘हम किसी को भी पाकिस्तान पर बुरी नजर रखने की इजाजत नहीं हीं देंगे।’

उन्होंने कहा कि आर्थिक प्रगति और गरीबी व बेरोजगारी से लड़ने के लिए पाकिस्तान शांति चाहता है। शरीफ ने जोर देकर कहा कि विभाजित (जम्मू एवं कश्मीर) राज्य का एक तिहाई उत्तरी भाग हिस्सा पाकिस्तान के पास है और दो तिहाई दक्षिणी हिस्सा भारत के पास है, जो उपमहाद्वीप के विभाजन का अधूरा एजेंडा है।

उन्होंने कहा कि भारत, जम्मू एवं कश्मीर में ज्यादतियां कर रहा है जो पाकिस्तान को स्वीकार्य नहीं है। शरीफ ने यह प्रतिक्रिया भारत के यह कहने के एक दिन बाद दी है कि उसने नियंत्रण रेखा के उस पार आतंकवादी लांच पैड पर सर्जिकल स्ट्राइक किए हैं।