देवभूमि में नरकंकालों के मिलने का सिलसिला जारी

रूद्रप्रयाग। देवभूमि उत्तराखंड में साल 2013 में आई आपदा के बाद अब हरीश रावत सरकार ने आपदा में लापता लोगों के नरकंकाल का डीएनएन सैंपल लेने की कवायद छेड़ रखी है। इस अभियान में लगी टीम को लगातार नर कंकाल मिल रहे हैं।

uttarakhand

इस खोज अभियान में लगी टीम को केदारनाथ के आसपास के इलाकों से 19 नरकंकाल मिले हैं। टीम ने इसके डीएनए सैंपलों को लेकर इनका अन्तिम संस्कार कर दिया है। फिलहाल बीते दिनों इस क्षेत्र से तकरीबन 52 नरकंकाल टीम को मिले हैं। फिलहाल आपदा के बाद लापता लोगों की तलाश में जारी अभियान में अब तक कुल 665 कंकाल मिल चुके हैं।

त्रियुगीनारायण-केदारनाथ पथ पर नरकांकाल मिलने के बाद से सीएम हरीश राौवत ने केदारनाथ जाने वाले सभी रास्तों पर इस अभियान को चलाने की बात कही थी। जिसके बाद इस अभियान को चलाया जा रहा है। गरुड़चट्टी से देवविष्णु से होते हुए गौरी गांव तक सर्च अभियान चलाया गया है।