यूपी : ग्राम रोजगार सेवकों का मानदेय बढ़ा

लखनऊ | उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने विधानसभा चुनाव से पहले ग्राम रोजगार सेवकों को एक बड़ा तोहफा दिया है। राज्य सरकार ने ग्राम रोजगार सेवकों का मानदेय 3,630 रुपये से बढ़ाकर 6,000 रुपये प्रतिमाह करने का फैसला लिया है। साथ ही संविदा कर्मियों की विभिन्न मांगों पर विचार करने के लिए एक कमेटी के गठन का भी निर्देश दिया है। सरकार की ओर से शनिवार को जारी एक बयान से यह जानकारी मिली।

desk

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ग्राम रोजगार सेवकों की अन्य मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का भी आश्वासन दिया। बयान के अनुसार, मुख्यमंत्री से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, आशा बहू, ग्राम रोजगार सेवक आदि के प्रतिनिधिमंडल अपनी मांगों को लेकर समय-समय पर मिलते रहे हैं। इन लोगों की मांग पर गौर करते हुए यादव ने यह इस आशय का फैसला लिया है।

उन्होंने संविदा कर्मियों की विभिन्न मांगों पर विचार करने के लिए एक कमेटी के गठन का भी निर्देश दिया है, जो मांगों के सभी पहलुओं का परीक्षण कर डेढ़ माह के अंदर अपनी संस्तुति प्रस्तुत कर