वन रैंक वन पेशन मामले में आत्महत्या करने वाले पूर्व सैनिक को लेकर हुए चौंकाने वाले खुलासे

नई दिल्ली। हाल ही में ओआरओपी को लेकर जवाहर भवन के सामने पार्क में जहर खाकर जान देने वाले पूर्व सैनिक रामकिशन ग्रेवाल के मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है। बताया जा रहा है कि रामकिशन ने अपने कुछ पूर्व साथियों से संपर्क किया था और उनके पेंशन को बढ़वाने कर भी झांसा दिया था। आपको बता दें कि वन रैंक वन पेशन के मामले को लेकर एक नवंबर को दिल्ली में आत्महतया कर लिया था, जिसके बाद राजनीति गहराई थी और विपक्षी पार्टियों ने सरकार पर पूर्व सैनिक के साथ अनदेखी का आरोप लगाया था।

ram-kishan

आपको बता दें कि पूर्व सैनिक की आत्महत्या के बाद से राजनीतिक दलों ने अपनी सियासी रोटियां सेंकनी शुरु कर दी थी। इस बीच रामकिशन के मामले में हुए खुलासे ने इसे नया रुप दे दिया है। आत्महत्या के बाद से गांव में क्राइम ब्रांच का डेरा है, हालिया खुलासे में पता चला है कि रामकिशन पर भारी कर्ज का बोझ था जिसके चलते उन्होंने अपना घर गिरवी रखा हुआ था। जब रामकिशन घर के रकम को चुका पाने में असमर्थ दिखने लगे थे, उसको लेकर गांव में पंचायत बुलाई गई थी और उनके घर को सील कर दिया गया था।

बताया जा रहा है कि रामकिशन पर कर्ज का बोझ भारी था जिसको लेकर काफी समय से वह परेशान चल रहे थे। जांच में पता चला है कि 31 अक्टूबर को रामकिशन ने अपने पांच पूर्व सैनिकों के साथ फोन पर काफी देर तक बातचीत किया, और पेंशन को ठीक कराने के लिए दिल्ली लेकर आए थे। दिल्ली में रामकिशन ने जहर खाकर आत्महत्या कर लिया था।