पूरे देश में आज मनाया जा रहा है राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस

नई दिल्ली। राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के अवसर पर आयुष मंत्रालय 28 अक्टूबर को नई दिल्ली में ‘आयुर्वेद के माध्यम से रोकथाम और मधुमेह के नियंत्रण’ पर एक दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन कर रहा है। इसके साथ ही सरकार ने धनवंतरि जयंती के दिन प्रत्येक वर्ष राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस मनाने का निर्णय लिया है। राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पीएमओ, पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास विभाग, डीओपीटी डॉ जितेन्द्र सिंह इस समारोह का उद्घाटन करेंगे और आयुष मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीपद यशो नाइक इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे।

ayurvedaa

इस अवसर पर आयुष मंत्रालय ‘आयुर्वेद के माध्यम से मिशन मधुमेह’ की शुरुआत करने जा रहा है। पूरे देश में मिशन मधुमेह एक विशेष रूप से परिकल्पित राष्ट्रीय उपचार प्रोटोकॉल लागू किया जाएगा। इस राष्ट्रीय संगोष्ठी के अवसर पर राष्ट्रीय उपचार प्रोटोकॉल भी जारी किया जाएगा।

इसके लिए आयुष मंत्रालय ने कई राज्य सरकारों (आयुष विभाग/स्वास्थ्य विभाग/ चिकित्सा शिक्षा विभाग), राज्य आयुष निदेशालयों, सभी आयुर्वेद शिक्षण संस्थानों, आयुर्वेद फार्मा को आयुर्वेद के माध्यम से मधुमेह के नियंत्रण और रोकथाम के विषय पर सार्वजनिक व्याख्यान/ संगोष्ठी/प्रदर्शनी आयोजित कर राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस मनाने को कहा है। कई राज्य सरकारों के आयुष विभागों ने इस संबंध में सक्रिय कदम उठाए हैं और मधुमेह के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए इस दिन स्वास्थ्य जांच शिविर, सार्वजनिक व्याख्यान, मधुमेह के रोगियों के लिए मुफ्त आयुर्वेदिक स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं जैसे कई कार्यक्रम आयोजित करने की योजना बनाई है।