नहीं मान रहे बिहार में शराबमाफिया

नालंदा। नीतीश सरकार बिहार में शराब बिक्री को लेकर कितनी भी संजीदा क्यूं ना दिखे पर शराब माफिया हैं कि मानने को तैयार ही नहीं। लगातार प्रदेश में शराब को लेकर अभियान चलाकर सरकार ने कई बार शराब की धरपकड़ की कई लोगों को जेल जुर्माना तक हुआ लेकिन इतना सब कुछ होने के बाद भी शराब की बिक्री और तस्करी बदस्तूर जारी है।

liquor

ताजा मामला मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जनपद नालंदा का है जहां नालंदा पुलिस और एसटीएफ की टीम ने चंडी थाना के जैती पुर मोड़ के पास छापेमारी कर लगभग 50 लाख रुपये की शराब जब्त की है। नालंदा एसपी कुमार आशीष के मुताबिक हरियाणा से एक कंटेनर में विदेशी शराब नालंदा लाई जा रही है। सूचना के आधार पर पुलिस ने घेराबंदी कर जैती पुर मोड़ के पास छापेमारी की। इस छापेमारी में 354 कार्टून विदेशी शराब बरामद किया गया है। इसमें कुल 6,448 बोतलों में हैं, जिसकी बाजार में कीमत लगभग 50 लाख रुपये है।

इस मामले में पुलिस ने कंटेनर ड्राइवर समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की जांच कर रही है। पुलिस की माने तो जिले में पहली बार इतनी बड़ी तादात में विदेशी शराब की बरामदगी हुई है। एसपी नालंदा ने बताया कि ये खेप नूरसराय के शराब माफिया संजीत सिंह ने मंगाई थी। संजीत सिंह का नाम शराब के इस अवैध कारोबार से काफी पहले से जुड़ा हुआ है। इसके पहले भी वो ऐसे ही मामले में जेल जा चुका है अभी 10 दिन पहले ही बाहर आया था। अब पुलिस पूरे मामले पर जांच कर आरोपियों पर कार्रवाई करने की फिराक में है।