819ea1db 770a 4fd8 bcb4 2e46678f96d3 26/11 आतंकी हमले की 12वीं बरसी पर कश्मीर में दिखाई दी आतंकवाद के खिलाफ एकजुटता, पोस्टर लगाकर पाकिस्तान को दिया कड़ा संदेश
मुबंई में हुए 2008 में आतंकी हमले की फोटो

जम्मू कश्मीर। आज संविधान दिवस के मौके पर सभी पार्टियों के द्वारा देशवासियों को शुभकामनाएं दी जा रही हैं। वहीं आप सबको पता होगा कि आज ही के मुबंई में दिल दहलाने वाला हादसा हुआ था। इस मौके पर 26/11 के हमले में शहीद हुए लोगों को गृह मंत्री अमित शाह और अन्य राजनेताओं के द्वारा श्रद्धांजलि दी गई। वहीं जम्मू कश्मीर की तरफ से पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ कड़ा संदेश दिया गया है। जम्मू कश्मीर से 26/11 मुंबई आतंकी हमले की 12वीं बरसी पर जम्मू कश्मीर के कई इलाकों में पोस्टर लगाए गए हैं। जिससे साफ जाहिर होता है कि तंकवाद के खिलाफ हम सभी एकजुट हैं। जम्मू कश्मीर में पोस्टर्स लगाए गए हैं और इसके साथ ही आतंकवाद के खिलाफ होने की बात कही गई है।

आतंकवाद के खिलाफ दिखाई दी एकजुटता-

बता दें कि मुंबई में हुए 26/11 आतंकी हमले की आज 12वीं बरसी है। इस दौरान देश में कई जगहों पर 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमलों में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी गई है। 26 नवंबर 2008 को पाकिस्तान से समुद्र के रास्ते आतंकी भारतीय सीमा में घुस आए थे और उन्होंने मुंबई में दहशत फैला दी थी। अब जम्मू कश्मीर से 26/11 मुंबई आतंकी हमले की 12वीं बरसी पर पाकिस्तान को कड़ा संदेश दिया गया है। दरअसल, जम्मू कश्मीर के कई इलाकों में मुंबई हमले की 12वीं बरसी के मौके पर पोस्टर लगाए गए हैं। जम्मू कश्मीर में लगाए गए इन पोस्टर्स के माध्यम से पाकिस्तान की ओर से स्पॉन्सर्ड आतंकवाद को करारा जवाब देने की कोशिश की गई है। पोस्टर्स में साफ तौर पर ये जाहिर किया गया है कि आतंकवाद के खिलाफ हम सभी एकजुट हैं। हालांकि ये पोस्टर्स किसने लगाए हैं, इसकी जानकारी फिलहाल सामने नहीं आ सकी है। जम्मू कश्मीर में अक्सर आतंकी हमले सामने आते हैं। वहीं सुरक्षाबलों के जरिए जम्मू कश्मीर में आतंकियों को पकड़ने के लिए कई अभियान भी चलाए जा रहे हैं। इस बीच आतंकवाद के खिलाफ जम्मू कश्मीर के इलाकों में इस तरह के पोस्टर्स लगाए जाना, अपने आप में आतंकवाद के खिलाफ एकजुटता को दर्शाता है।

कई लोगों की गई थी जान-

बता दें कि 26/11 आतंकी हमलों में करीब 180 लोगों की जान चली गई थी। इसके अलावा 300 से ज्यादा लोग इस आतंकी वारदात में घायल हो गए थे। वहीं जब मुंबई हमलों की जांच हुई तो सामने आया कि 10 आतंकी पाकिस्तान के कराची से समुद्र के रास्ते मुंबई में दाखिल हुए थे। इसके बाद इन 10 आतंकियों ने मुंबई के अलग-अलग इलाके में दहशत फैला दी थी। वहीं मुंबई में हुए इस हमले में मुहम्मद अजमल कसाब नाम का आतंकी जिंदा पकड़ा गया था। जिसे कई सालों की ट्रायल के बाद फांसी की सजा हुई।

Trinath Mishra
Trinath Mishra is Sub-Editor of www.bharatkhabar.com and have working experience of more than 5 Years in Media. He is a Journalist that covers National news stories and big events also.

VIDEO: देखिये देवउठनी एकादशी पर हुई श्री बांके बिहारी जी की विशेष पूजा, वृंदावन के अद्भुत दर्शन

Previous article

डिएगो माराडोना की दिल का दौरा पड़ने से मौत, क्रिकेट जगत ने इस तरह दी माराडोना को श्रद्धांजलि, यहां लगाई जाएगी 350 किलोग्राम की प्रतिमा

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.