featured देश

सदन में शिंदे की सरकार, पक्ष में पड़े 164 वोट, विरोध में 99 वोट, उद्धव गुट के दो और विधायक हुए बागी

Vishansabha सदन में शिंदे की सरकार, पक्ष में पड़े 164 वोट, विरोध में 99 वोट, उद्धव गुट के दो और विधायक हुए बागी

 

महाराष्ट्र की एकनाथ शिंदे सरकार फ्लोर टेस्ट में पास हो गई है। सोमवार सुबह विधानसभा में शिंदे सरकार ने विश्वास मत हासिल कर लिया। फ्लोर टेस्ट के वक्त जैसी उम्मीद थी, वैसा ही हुआ।

यह भी पढ़े

Agneepath Scheme: सुप्रीम कोर्ट ने स्वीकारी अग्निपथ योजना के खिलाफ याचिका दायर, इस दिन होगी सुनवाई

शिंदे सरकार ने विश्वास मत जीत लिया। सरकार को 164 विधायकों का समर्थन मिला। विपक्ष में 99 वोट पड़े। इस तरह शिंदे सरकार बच गई। वोटिंग के वक्त 266 विधायक सदन में मौजूद थे। इनमें से तीन विधायकों ने वोट नहीं डाला। 21 विधायक सदन से गैरहाजिर रहे।

Vishansabha सदन में शिंदे की सरकार, पक्ष में पड़े 164 वोट, विरोध में 99 वोट, उद्धव गुट के दो और विधायक हुए बागी

विधानसभा में मौजूदा विधायकों की संख्या 288 है। एक सीट खाली है। यह संख्या 287 बचती है। 21 विधायक गैरहाजिर रहे। इस तरह 266 विधायक सदन में मौजूद थे। एसपी के दो एमएलए समेत 3 विधायक तटस्थ रहे। 263 ने वोटिंग की तो शिंदे सरकार के पक्ष में 164 और विपक्ष में 99 वोट पड़े।

shinde सदन में शिंदे की सरकार, पक्ष में पड़े 164 वोट, विरोध में 99 वोट, उद्धव गुट के दो और विधायक हुए बागी

दो और विधायक हुए बागी

विधानसभा में वोटिंग से पहले उद्धव ठाकरे को बड़ा झटका लगा। वोटिंग से ठीक पहले उद्धव गुट के विधायक संतोष बांगर और श्यामसुंदर शिंदे विरोधी गुट में शामिल हो गए। संतोष बांगर शिंदे गुट के विधायकों के साथ ही विधानसभा पहुंचे थे।

bbc78b21ded2384b0d354a1fc4437e72 original सदन में शिंदे की सरकार, पक्ष में पड़े 164 वोट, विरोध में 99 वोट, उद्धव गुट के दो और विधायक हुए बागी

सुप्रीम कोर्ट से भी उद्धव को झटका

वोटिंग से पहले सुप्रीम कोर्ट ने शिवसेना की याचिका पर तुरंत सुनवाई से इनकार कर दिया है। स्पीकर राहुल नार्वेकर के फैसले के खिलाफ शिवसेना ने याचिका दाखिल की थी। रविवार को स्पीकर की ओर से विधानसभा में शिवसेना के नेता और चीफ व्हिप की मान्यता को खत्म कर दिया था।

Related posts

जम्मू कश्मीर: बारामुला के सोपोर इलाके में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच हुई मुठभेड़, दो आतंकी ढेर

rituraj

बिहार : दूसरे दिन भी तेजप्रताप ने जनता दरबार लगाकर सुनी शिकायतें

Ankit Tripathi

किसानों के निकायों से समर्थन लेने के लिए 5 नवंबर को तीन बैक टू बैक मीटिंग करेंगे बघेल

Trinath Mishra