featured बिहार

झारखंड के मुख्यमंत्री के करीबी प्रेम प्रकाश के ठिकानों पर ED का छापा, दो AK-47 बरामद, खनन घोटाले में कसा शिकंजा

123 13 झारखंड के मुख्यमंत्री के करीबी प्रेम प्रकाश के ठिकानों पर ED का छापा, दो AK-47 बरामद, खनन घोटाले में कसा शिकंजा

 

ईडी की छापेमारी जारी है। झारखंड में मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के करीबी प्रेम प्रकाश के रांची स्थित ठिकानों पर ईडी ने बुधवार को रेड मारी।

यह भी पढ़े

खराब सेहत से जूझ रहीं सोनिया गांधी, मेडिकल टेस्ट कराने के लिए जाएंगी विदेश, राहुल और प्रियंका गांधी भी साथ

 

प्रेम प्रकाश के 17 ठिकानों पर छापेमारी के दौरान जांच एजेंसी दो AK-47 हथियार मिली है। ईडी ये कार्रवाई खनन घोटाले को लेकर कर रही है। इस घोटाले के सिलसिले में ही जांच एजेंसी ने दिल्ली और तमिलनाडु में भी छापा मारा है। ईडी ने पिछले दिनों प्रेम प्रकाश से पूछताछ कर उसे छोड़ दिया था। खनन घोटाले को लेकर जांच एजेंसी ने मुख्यमंत्री के करीबी नेताओं और अधिकारियों से पूछताछ कर चुकी है। सीएम हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा फिलहाल ईडी के रिमांड पर हैं। प्रेम प्रकाश की झारखंड की राजनीति में गहरी पैठ मानी जाती है। वो मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का काफी करीबी बताया जाता है। ईडी ने राज्यभर में उसके 16 ठिकानों पर एकसाथ छापा मारा है।

123 13 झारखंड के मुख्यमंत्री के करीबी प्रेम प्रकाश के ठिकानों पर ED का छापा, दो AK-47 बरामद, खनन घोटाले में कसा शिकंजा

 

सीबीआई और ईडी की टीमें पड़ोसी बिहार में काफी एक्टिव है। सीबीआई की टीमों ने बिहार में राजद के 5 नेताओं समेत 25 ठिकानों पर छापा मारा है। इनमें राजद के दो राज्यसभा सांसद, पूर्व विधायक और फाइनेंसर कहे जाने वाले अबु दोजाना भी शामिल है। इसके अलावा राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के करीबी और बालू माफिया सुभाष यादव के घर भी छापा पड़ा है। सीबीआई की एक टीम हरियाणा के गुरूग्राम स्थिति डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के मॉल पर भी पहुंची है, जिसे दोजाना की कंपनी बना रही है।

ed झारखंड के मुख्यमंत्री के करीबी प्रेम प्रकाश के ठिकानों पर ED का छापा, दो AK-47 बरामद, खनन घोटाले में कसा शिकंजा

इस कार्रवाई के बाद एक बार फिर आईआरसीटीसी घोटाले का जिन्न बाहर आ गया है। इस घोटाले को लेकर आरोप है कि लालू प्रसाद यादव जब यूपीए 1 की सरकार के दौरान रेल मंत्री थे तब उन्होंने आईआरसीटीसी के रांची और पुरी स्थित दो होटलों के संचालन का जिम्मा सुजाता होटल्स को दे दिया था। ये ठेका सारे नियम को ताक पर रखकर दिया गया था। बदले में सुजाता होटल्स के मालिक विनय और विजय कोचर ने लालू यादव को पटना में तीन एकड़ जमीन दी थी, जो कि बेनामी संपत्ति थी।

Related posts

इस बड़े प्लेटफार्म पर और रोजी रोटी के लिए तरस रहे कुली, चारों तरफ सन्नाटा

Aditya Mishra

Republic Day 2023: 74वें गणतंत्र दिवस परेड में दिखेगा मेड इन इंडिया का दम, स्वदेशी हथियार आएंगे नजर

Rahul

ठाकरे बायोपिक में काम करने और सबसे मुश्किल सीन को लेकर नवाज ने किया खुलासा

Rani Naqvi