अलगाववादियों के चलते रोकना पड़ा अमरनाथ यात्रा

जम्मू-कश्मीर में कुलगाम जिले के खुदवाणी इलाके में शनिवार की सुबह सेना के सर्च ऑपरेशन के दौरान पत्थरबाजों ने हंगामा कर दिया। हालांकि, सेना ने जब उन्हें हटाने की कोशिश की तो पत्थरबाजों ने सेना के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। इस दौरान दोनों के बीच झड़प हुई और इसमें तीन नागरिकों की मौत हो गई। मृतकों में एक नाबालिग लड़की भी शामिल है।


वहीं, इस झड़प में 3 जवान समेत 13 से ज्यादा लोग घायल हो गए। झड़प के दौरान घायलों को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने तीन नागरिकों की मौत की पुष्टि की। सेना और पत्थरबाजों के बीच ये झड़प आतंकी बुरहान वानी की दूसरी बरसी से पहले बुलाए गए बंद के दौरान हुई। बता दें कि हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी की दूसरी बरसी पर जम्मू कश्मीर में अलगाववादियों ने बंद का आह्वान किया है। सुरक्षा के मद्देनजर सेना ने पुलवामा और त्राल समेत कई इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया है। बंद के दौरान किसी भी अनहोनी से बचने के लिए रविवार को रवाना होने वाली अमरनाथ यात्रा पर रोक लगा दी गई है। जम्मू कश्मीर के डीजीपी डॉ. एसपी वैद ने इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि रविवार को आतंकी बुरहान वानी की बरसी पर कश्मीर बंद का आह्वान किया गया है, जिसके कारण सुरक्षा के मद्देनजर रविवार को अमरनाथ यात्रा पर रोक लगा दी गई है। इससे करीब 1000 की संख्या में अमरनाथ यात्रियों को कठुआ में रुकना पड़ा है। वहीं, 15000 हजार से ज्यादा यात्रियों को जम्मू, उधमपुर और रामबाण जिले में रोका गया है।