रामगोपाल और अखिलेश ने मनाई सैफई में दिवाली तो मुलायम रहे नदारत

इटावा। दीपावली में दीए जले पर समाजवादी परिवार में दिल जले नहीं मिले जीं हां हम बात कर रहे हैं सपा सुप्रीमों और समाजवादी परिवार के थिंक टैंक कहे जाने वाले प्रो रामगोपाल यादव की दोनों के बीच आई दरार को दीवाली की रोशनी भी ना मिटा सकी। हांलाकि अखिलेश अपने परिवार से इतर अपने चाचा से मिलने गये और दिवाली की बधाई भी दी।

ramgopal_akhilesh_ulayam

सैफई में इसबार दिवाली की रौनक नहीं देखने को मिली । ठीक त्यौहार के पहले समाजवादी कुनबे में फटे बगावत के बम की गूंज का असर दीपावली पर भी गहरा पड़ा इसी वजह से इस बार मुलायम ने सैफई में दीपावली के दिए नहीं जलाये। लेकिन सीएम अखिलेश ने सैफई में दीए भी जलाये औऱ पार्टी से बाहर किए गये अपने चाचा रामगोपाल से मुलाकात भी की इस मुलाकात के चाचा ने उन्हें दोबारा यूपी का सीएम बनने का आर्शीवाद दिया। 30 मिनट तक चाचा और भतीजे की हुई इस मुलाकात को बहुत ही अहम माना जा रहा है।

फिलहाल इस मुलाकात पर सीएम अखिलेश और रामगोपाल ने कुछ नहीं कहा पर इस मुलाकात और अपने संदेश में रामगोपाल ने साफ कर दिया कि इस धर्मयुद्ध में वो अपने भतीजे अखिलेश के साथ खड़े हैं। वे बार बार ये कहते नजर आये कि सीएम अखिलेश महान हैं। वे हमेशा अखिलेश के साथ हैं और खड़े रहेंगे।