रणवीर की मस्तानी दीपिका, ऐसे बनी XXX की स्टंट क्वीन

नई दिल्ली। आज के समय में हजारों दिलों की धड़कन बन चुकी दीपिका पादुकोण ने खुद की मेहनत के बल पर ये साबित कर दिया कि सच में अगर किसी चीज को पूरी शिद्दत से चाहो तो पूरी कायनात उस चीज को पूरा कराने में लग जाती है। जी हां उतार- चढ़ाव से भरा कुछ अलग ही रहा है दीपिका की फिल्मी सफर। ओम शांति ओम से बाॅलीवुड फिल्मों में कदम रखने वाली शांतिप्रिया (दीपिकी पादुकोण) को फैन्स और क्रिटिक्स ने काफी सराहा और उनकी पहली ही फिल्म ने उन्हें अलग दर्जा दिला दिया।

माॅडलिंग से की करियर की शुरूआत

दीपिका ने माडलिंग से करियार की शुरूआत करने के बाद उन्हें कई टीवी ऐड के आफर मिलने लगे। इसके बाद उन्हें तमिल फिल्मों में काम करने का मौका भी मिला। लंबी हाइट और अटरैक्टिव पर्सनैलिटी होने के कारण दीपिका ने कई अवार्ड जीते जिनमें माॅडल आॅफ द ईयर, फ्रेस फेस आॅफ द ईयर भी शामिल थे। इसके अलावा दीपिका को करियर के इस पड़ाव पर किंगफिसर का ब्रांड अंबेसडर भी चुना गया। बैंगलुरू के एक छोटे से परिवार से आने वाली दीपिका के पिता प्रकाश पादुकोण एक  इसी बीच हिमेश के एक पाॅप एल्बम से उन्हें काफी पाप्युलैरिटी मिली।

शांतिप्रिया से शुरू हुआ फिल्मी सफर 

बाॅलीवुड में कोई गाॅडफादर न होने के बावजूद दीपिका ने अपनी पहली फिल्म में अभिनय का वो जादू चलाया कि हर किसी की जुबान पर उनका नाम आ गया। शांतिप्रिया के रूप में उनकी पहली फिल्म ओम शांति ओम में उन्होंने डबल रोल प्ले किया जिसमें उनके अपोजिट शाहरूख खान थे। इसके बाद एक के बाद एक फिल्में उनकी राहों में आती गई लेकिन सफलता का वो मुकाम जिसकी दीपिका को तलाश थी वो उन्हें न मिल पाया। ‘बचना ऐ हसीनों’, ‘कार्तिक कालिंग कार्तिक’ ‘ब्रेक के बाद’,’खेलें हम जी जान से’ “आरक्षण’ जैसी फिल्में रूपहले पर्दे पर सफलता नहीं पा सकी। एक के बाद एक फिल्म फ्लाॅप होती रही। एक समय तो ऐसा आ गया था जब दीपिका को फिल्म के लिए अनलकी कहा जाने लगा। यहां तक की खबरों में तो ये भी आया कि रणबीर और दीपिका के रिश्ते में दरार भी इसी वजह से आई। दीपिका डिप्रेशन का शिकार हो गई।

कहते हैं हर काली रात के बाद सुबह जरूर खिलती है ऐसा ही कुछ हुआ दीपिका की जिंदगी में। साल 2009 में उनके करियर की दूसरी हिट फिल्म लव आजकल ने उन्हें थोड़ा सुकून पहुंचाया। इसके बाद दीपिका ने जिस मेहनत से काम किया हर कोई उनका मुरीद हो गया। एक-एक कदम करके दीपिका आगे बढ़ती गई और सफलता के हर कसौटी पर खरी उतरती गई। आज बाॅलीवुड से लेकर हाॅलीवुड तक उन्हें पहचान मिल चुकी है। बाॅलीवुड में बिना किसी गाॅडफादर के उन्होंने खुद को साबित कर दिया है।