मुश्किल में भारत-पाक व्यापार : एसोचैम

नई दिल्ली| उद्योग संगठन एसोसिएटेड चेम्बर्स ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्री ऑफ इंडिया (एसोचैम) ने रविवार को भारत और पाकिस्तान के बीच व्यापार संबंधों में ‘काफी कमी’ आने की बात कही है। उद्योग संगठन का यह बयान पिछले हफ्ते उड़ी में सेना शिविर पर हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनावों के मद्देनजर आया है। एक विज्ञप्ति में एसोचैम ने कहा, “भारत-पाकिस्तान के बीच व्यापार संबंध काफी कम है यह भारत के आयात और निर्यात सहित दोनों के वैश्विक व्यापार का एक प्रतिशत के आधे प्रतिशत से भी कम है।

assocham

विज्ञप्ति में यह भी कहा, “साल 2015-16 के 641 अरब डॉलर के भारत के कुल वाणिज्यिक व्यापार में पाकिस्तान से महज 2.67 अरब डॉलर का व्यापार हुआ। एसोचैम के महासचिव डी.एस. रावत ने बयान में कहा, “पाकिस्तान के साथ व्यापार भारत के पूरे वैश्विक वाणिज्यिक व्यापार के 0.41 प्रतिशत के बराबर है। “उन्होंने कहा, “इस तरह एमएफएन (मोस्ट फेवर्ड नेशन)का दर्जा होना या न होने से द्विपक्षीय व्यापार में कोई ज्यादा अंतर नहीं आता नहीं दिखता। “

उन्होंने कहा, ” भारत ने पाकिस्तान को एमएफएन का दर्जा दिया हुआ है, लेकिन पाकिस्तान ने इसका कोई जवाब नहीं दिया। लेकिन एमएफएन दर्जे के बाद भी पाकिस्तान से भारत को निर्यात एक अरब डॉलर से कम का ही बना रहा। चेंबर ने कहा कि इंडिया इंक पूरी तरह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत के हित के लिए उनके साथ है।