बिहार में शराबबंदी से घटा है अपराध : नीतीश

मोतिहारी। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यहां गुरुवार को कहा कि बिहार में शराबबंदी के बाद आपराधिक घटनाओं में कमी आई है और दूध से बनी वस्तुओं की बिक्री बढ़ गई है। मोतिहारी में निश्चय यात्रा के दौरान ‘चेतना सभा’ में लोगों को संबोधित करते हुए नीतीश ने कहा कि बिहार विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है।

nitish-kumar

उन्होंने विपक्षियों पर निशाना साधते हुए कहा, “उन्हें मेरा कोई काम अच्छा नहीं लगता। मैं केंद्र सरकार की अच्छी योजनाओं की तारीफ करता हूं, लेकिन उन्हें मेरा कोई काम पसंद नहीं आता। अगर विपक्ष ऐसे ही अच्छे कामों का विरोध करता रहा तो वर्ष 2019 में उसका सफाया तय है।”

नीतीश ने कहा कि वैसे तो कई राज्यों में पहले से शराबबंदी लागू है, लेकिन बिहार शराबबंदी में उदाहरण पेश करेगा। मुख्यमंत्री ने एक बार फिर दोहराया कि बिहार में शराबबंदी लागू है और रहेगा।

उन्होंने कहा, “बिहार में शराबबंदी से बहुत बड़ा सामाजिक परिवर्तन आया है। अब पत्नियां कहती हैं कि जो पति शराब पीकर आता था, पीटता था, उससे डर लगता था मगर आज वही पति सुंदर लगता है।”

मुख्यमंत्री ने कहा कि शराबबंदी से बिहार में आपराधिक घटनाओं में कमी आई है, सुख शांति बढ़ी है। जनता दल (युनाइटेड) के अध्यक्ष ने कहा, “हमलोग ‘जुमलेबाज’ नहीं हैं, काम में विश्वास करते हैं और काम करते हैं।”

अपनी निश्चय यात्रा के दूसरे दिन गुरुवार मुख्यमंत्री नीतीश पताही प्रखंड के परसौनी कपूर पंचायत पहुंचे और वहां विकास कार्यो का जायजा लिया। इसके बाद वह अरेराज क्षेत्र में जाकर वहां चल रही विकास योजनाओं को देखा। नीतीश ने मोतिहारी परिसदन में मोतिहारी चैंबर ऑफ कॉमर्स के लोगों से मुलाकात की और उनकी समस्याओं को जाना।