बिहार विधानमंडल परिसर में महागठबंधन के सदस्यों ने दिया धरना

पटना। देश भर में विपक्ष के द्वारा नोटबंदी के खिलाफ चल रहे घमासान के बाद आज बिहार विधानमंडल परिसर में सत्ताधारी महागठबंधन के विधायकों और विधान पार्षदों ने धरना दिया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरोध में जमकर नारे लगाए। इसमें शामिल नेताओं का कहना है कि नोटबंदी को लेकर किसान और मजदूर परेशान हैं। पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के नेतृत्व में इस धरना-प्रदर्शन में महागठबंधन में शामिल राष्ट्रीय जनता दल (राजद), जनता दल (युनाइटेड) तथा कांग्रेस के सभी सदस्यों ने भी हिस्सा लिया।

bihar

राबड़ी देवी ने कहा कि नोटबंदी के बाद किसान खेती नहीं कर पा रहे हैं, मजदूर परेशान हैं। लोग अपने ही पैसों के लिए दिनभर भटक रहे हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वादों की याद दिलाते हुए कहा कि लोगों के बैंक खाते में 15-15 लाख रुपये कब डाले जाएंगे, यह उन्हें बताना चाहिए। महागठबंधन के इस धरना को लोग एकजुटता दिखाए जाने के रूप में देख रहे हैं। सुबह साढ़े नौ बजे से शुरू हुआ धरना विधानसभा की कार्यवाही शुरू होने से पहले समाप्त हो गया।