इसिनबाएवा ने ओलम्पिक अधिकारियों पर लगाए भेदभाव के आरोप

मास्को। रूस की दो बार की ओलम्पिक चैम्पियन पोल वॉल्ट महिला खिलाड़ी येलेने इसिनबाएवा ने कहा है कि वह रियो ओलम्पिक-2016 में हिस्सा लेने की आखिरी उम्मीद तक अभ्यास करना नहीं छोड़ेंगी। पिछले साल नवंबर में विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी (वाडा) ने रूस के खिलाड़ियों पर डोपिंग नियमों के उल्लंघन का आरोप लगाया था और अंतर्राष्ट्रीय एथलेटिक्स महासंघ (आईएएएफ) सहित अन्य खेल संस्थाओं से रूस के खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने से प्रतिबंधित करने को कहा था जिसमें ओलम्पिक खेल भी शामिल थे।

russian player

इसके बाद आईएएएफ ने वाडा की सिफारिशों को माना था। खेल पंचाट न्यायालय (सीएएस) ने 21 जुलाई को रूस के 68 खिलाड़ियों और रूस ओलम्पिक समिति की अपील को खारिज कर दिया था और रूस की राष्ट्रीय टीम पर रियो ओलम्पिक में हिस्सा लेने से पाबंदी लगा दी थी। इसिनबाएवा ने शुक्रवार को ट्विटर पर जारी एक बयान में कहा कि मुझे हटाने का प्रमुख कारण मेरा रूस में अभ्यास करना है। उन्होंने कहा, “वाडा और आईओसी को मुझसे कोई आपत्ति नहीं है।” उन्होंने कहा, “आईएएएफ के पास भी डोपिंग से संबंधित मेरे खिलाफ कोई सबूत नहीं है। मैं साफ और ईमानदार हूं। मेरा पूरा करियर इस बारे में बताता है। ओलम्पिक खेलों से मुझे दूर रखने का एकमात्र कारण मेरा रूस में अभ्यास करना है। मैं पिछले दो वर्षो से यहां रह रही हूं और अभ्यास कर रही हूं।”