10 हजार आरक्षण समर्थकों ने निकाली बाइक रैली

लखनऊ। पदोन्नति में आरक्षण विधेयक लोकसभा से पारित न होने पर आरक्षण समर्थकों ने रविवार को सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया। सभी ने मोदी सरकार पर आरक्षण विरोधी होने का आरोप लगाकर जमकर नारेबाजी की। प्रदेशभर से लखनऊ में एकजुट हुए करीब दस हजार आरक्षण समर्थकों ने बाइक रैली निकाली। रैली पॉलीटेक्निक गेट से फतेहगंज, महराजगंज, उन्नाव, नारायणपुर, फतेहगंज से वापस लखनऊ आई।

Rally

आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक अवधेश कुमार वर्मा ने कहा, “मोदी सरकार पदोन्नति बिल जानबूझकर पास नहीं कर रही है। इसलिए उसका हर हाल में उप्र से सफाया करना है।”

के.बी. राम ने कहा कि मोदी सरकार ने बाबा साहब के नाम पर दलित समाज को गुमराह किया है। सपा-भाजपा सरकार के आरक्षण विरोधी गठजोड़ का खुलासा कर उप्र में आरक्षण समर्थक सरकार बनानी है। वहीं, रामशब्द जैसवारा ने कहा, “उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशियों का बिहार चुनाव से भी बदतर हश्र करना है, इसके लिए जी-जान लगा दी जाएगी।”

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि इसी महीने लखनऊ में प्रदेशव्यापी सम्मेलन होगा, जिसमें देश के अन्य राज्यों के आरक्षण समर्थक भी हिस्सा लेंगे।