9 विभूतियों को मिला उत्तराखंड ‘रत्न’

देहरादून। उत्तराखंड की 16वीं वर्षगांठ पर न्यूकैंट में स्थित सीएम आवास पर आयोजित एक कार्यक्रम में सूबे की 9 विभूतियों को उत्तराखंड सम्मान से नवाजा गया। बता दें कि केंद्र सरकार की तर्ज पर प्रदेश सरकार ने पहली बार इस तरह के सम्मान की शुरूआत की है।

harish-rawat

जिन लोगों को सम्मान से नवाजा गया उनमें वयोवृद्व कांग्रेस नेता एवं उत्तर प्रदेश तथा उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रहे पंडित नारायण दत्त तिवारी, वीर चंद्र सिंह गढ़वाली(मरणोपरांत) स्वतंत्रता संग्राम सेनानी श्रीदेव सुमन (मरणोपरांत) उत्तराखंड के गांधी एवं राज्य आंदोलन के अग्रणी इंद्रमणी बडोनी(मरणोपरांत) जयानंद भारती (मरणोपरांत) कुमाऊं केसरी बद्री दत्त पांडेय(मरणोपरांत) आध्यात्म एवं सामाजिक क्षेत्र में सक्रिय माता मंगला एवं महंत स्वामी घनश्याम गिरि के नाम हैं।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इन महान विभूतियों का संघर्ष इतिहास में दर्ज है। उनके योगदान को याद करते हुए उन्होंने कहा कि इनके व्यक्तित्व व जीवन मूल्यों के लिए किए गए संघर्ष से प्रेरणा ली जानी चाहिए।