500, 1000 रुपये के नोट बंद होने से यूपी में हाई अलर्ट जारी

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से 500 और 1,000 रुपये के नोट बंद करने की घोषणा किए जाने के बाद उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ सहित सभी जिलों में हाई अलर्ट घोषित किया है। पुलिस महानिदेशक जावीद अहमद ने जिला पुलिस प्रमुखों को मॉल, पेट्रोल पम्पों, सीएनजी स्टेशनों, दवा की दुकानों पर पुलिस बल तैनात करने व पेट्रोलिंग बढ़ाने का आदेश दिए हैं। बड़े पुलिस अधिकारियों को सड़क पर गश्त करने की हिदायत दी गई है। पुलिस अधिकारियों से कहा गया है कि 11 नवंबर तक पेट्रोल पंप, दवा की दुकानों पर 1,000 और 500 रुपये के नोटों का भुगतान किया जा सकेगा। रेल और बस यात्रा के दौरान भी इन नोटों का भुगतान किया जा सकेगा। लिहाजा ऐसे स्थानों पर नोक-झोंक रोकने के लिए पुलिस मुस्तैद की गई है।

atm

लखनऊ की वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजिल सैनी ने आईएएनएस को बताया, “सभी एसएचओ व थाना प्रभारियों को निर्देश दिया गया है कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में आने वाले एटीएम बूथ, पेट्रोल पंप व बाजारों में सुरक्षा बढ़ा दें।”

उन्होंने बताया कि बैंक और डाकघरों के आसपास के इलाकों में भी सुरक्षा और कड़ी कर दी गई है तथा किसी भी तरह की स्थिति से निपटने का आदेश दिया गया है। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पांच सौ व एक हजार रुपये के नोट बंद करने के केंद्र सरकार के फैसले के बाद गांवों में विशेष काउंटर लगाने की मांग की है। मंगलवार देर रात 10.38 बजे ट्वीट कर मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार को गांवों व जिला केंद्रों पर विशेष बैंकिंग काउंटर स्थापित करने चाहिए।