युद्ध नायकों की पत्नियों की भूमिका निभाना रहा मुश्किल : संध्या मृदुल

मुंबई। अभिनेत्री संध्या मृदुल का कहना है कि टीवी शो ‘पी.ओ.डब्ल्यू बंदी युद्ध के’ में अकेली मां की भूमिका निभाने के बाद उन्हें मानसिक तनाव का सामना करना पड़ा और योग ने उनके मानसिक व भावनात्मक तनाव को दूर करने में मदद की। शो में संध्या, नाजनीन खान की भूमिका में हैं जो दो बच्चों का पालन-पोषण एकल अभिभवाक के तौर पर करती हैं। उनके पति इमान खान (सत्यदीप मिश्रा) कारगिल युद्ध के बाद से लापता हैं।

sandhya
संध्या ने अपने बयान में कहा, “मैंने नाजनीन के किरदार को शिद्दत से निभाने की कोशिश की है। युद्ध नायकों की पत्नियां जिस मानसिक तकलीफ व आघात से गुजरती हैं उसे समझना मुश्किल है। मैंने अपनी भावनाओं और दर्द के साथ इसे ईमानदारीपूर्व निभाने की कोशिश की है, जो नाजनीन जैसे किरदार में नजर आता है।”

अभिनेत्री के मुताबिक, नाजनीन की भूमिका से बाहर आने के लिए उन्होंने योग, मधुर संगीत और व्यायाम आदि का सहारा लिया। स्टार प्लस पर सात नवंबर से प्रसारित होने वाला फिल्मकार निखिल आडवाणी का शो ‘पी.ओ.डब्ल्यू बंदी युद्ध के’ इजराइल के टीवी शो ‘हातुफिम’ का भारतीय रूपांतर है। इसमें लापता हुए दो सैनिकों की कहानी को दिखाया गया है, जो 17 साल बाद घर लौटते हैं। बता दें कि अॅानएयर होने से पहले ही ये शो दर्शको के बीच चरेचा का विषय बना हुआ है।