September 18, 2021 2:06 am
featured यूपी

रायबरेलीः अब अपना गढ़ भी नहीं बचा पा रही है कांग्रेस, सोनिया को मिली इस्तीफे की नसीहत

रायबरेलीः अब अपना कुनबा भी नहीं बचा पा रही है कांग्रेस, सोनिया को मिली इस्तीफे की नसीहत

रायबरेलीः उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत चुनाव का नतीजा सामने आया तो कांग्रेस के हाथ एकदम खाली नजर आए। 75 जिलों में से 65 जिलों भाजपा का कब्जा हो गया, जबकि 6 जिलों सपा की साइकिल चली। अन्य चार सीटें निर्दलीय और अन्य दलों को मिली।

कांग्रेस का गढ़ कहे जाने वाले रायबरेली में भी कांग्रेस इस बार कुछ नहीं कर पाई। यहां की जिला पंचायत अध्यक्ष की अजेय सीट पर भी भाजपा ने पहली बार बाजी अपने हाथ कर ली है। बीजेपी की रंजना चौधरी ने कांग्रेस की आरती सिंह को कड़ी टक्कर देते हुए जीत अपने नाम दर्ज की है। इस सीट के जीतने से भाजपाईयों में नई ऊर्जा का संचार हुआ है। वहीं, उत्साहित भाजपाई सोनिया गांधी को इस्तीफा देने की नसीहत दे रहे हैं।

सोनिया समेट ले बोरिया बिस्तर- भाजपा

रंजना चौधरी अपनी जीत का सारा श्रेय बीजेपी को दे रही हैं। वहीं, बीजेपी नेता दिनेश सिंह ने कहा कि कई जिलों में कांग्रेस समाप्त हो गई है, ऐसे में सोनिया गांधी को भी बोरिया बिस्तर समेट लेना चाहिए।

गढ़ बचाने में असफल कांग्रेस

रायबरेली की हार कांग्रेस की हार न मानकर बीजेपी इसे सोनिया की हार मान रही है। बता दें कि देश और प्रदेश के साथ-साथ कांग्रेस अब अपना गढ़ भी बचाने में सक्षम नहीं रही है। जिला पंचायत की ये हार कांग्रेस के लिए बेहद ही अपमानजनक है।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी यहां से सांसद हैं। जिला पंचायत की कुर्सी पर पिछले दो चुनावों में इसी पार्टी का कब्जा रहा, लेकिन इस बार शिकस्त का सामना करना पड़ा। कारण कुछ भी हो सकते हैं, लेकिन भाजपा को मिली यह जीत संजीवनी से कम नहीं है। ज़िला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर आज़ादी के बाद पहली बार कमल खिलने से भाजपाई उत्साहित हैं।

Related posts

हनीट्रैप मामला : मुश्किल में वरुण गांधी, पार्टी ने किया किनारा

shipra saxena

..तो सलमान, शाहरुख व आमिर पाकिस्तान चले जाएं: साध्वी प्राची

bharatkhabar

उत्तर प्रदेश ने फिर बनाया रिकॉर्ड, ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में लगाई 12 पायदान की छलांग

Aditya Mishra