September 26, 2022 9:56 am
featured यूपी

राप्‍ती नदी में डूब रहे चार युवकों के लिए भगवान बना मंगरू, ऐसे बचाई जान

राप्‍ती नदी में डूब रहे चार युवकों के लिए भगवान बना मंगरू, ऐसे बचाई जान

गोरखपुर: गोरखपुर की राप्ती नदी में डूब रहे पांच युवकों में से चार को एक युवक ने अपनी जान पर खेल कर बचा लिया। वह बगैर अपनी जान की परवाह किए नदी में उतर गया और चार युवकों को बचा लिया। हालांकि, इस दौरान एक युवक नदी के गहरे पानी में डूब गया, जिसकी तलाश जारी है

दरअसल, जिले के गीडा थाना क्षेत्र के राप्ती नदी के रामघाट तट पर नहाने गए पांच युवकों में से एक युवक डूब गया। जबकि चार युवकों को एक युवक ने अपनी जान की परवाह किए बगैर नदी में उतरकर बचा लिया। बता दें उन डूब रहे चारों युवकों के लिए भगवान बनकर आए मंगरू निषाद ने नदी में छलांग लगा दी और एक-एक कर चार युवकों को नदी के किनारे खींचकर लाया, जिससे उनकी जान बच गई, लेकिन एक युवक राप्ती नदी के गहरे पानी में डूब गया।

फिलहाल, उसकी तलाश गोताखोर और एसडीआरएफ की टीम कर रही है। हालांकि, गीता थाने की पुलिस व एसडीआरएफ टीम ने कई घंटे की तलाश के बावजूद डूबे युवक की कोई खोज नहीं कर पाई हैं। नदी में डूबे हुए युवक का नाम धीरू सुनकर बताया जा रहा है, जिसकी उम्र 27 वर्ष है। वह गोरखपुर के धर्मशाला बाजार का निवासी है।

चार दोस्तों के साथ नहाने गया था धीरू

बताया जा रहा है कि धीरू दोपहर करीब 1:00 बजे अपने चारों साथी सुमेश सागर के रहने वाले शेरू और गोलू, फतेहपुर उत्तरी के रहने वाले शेरा और मनोज के साथ नदी नहाने के लिए राम घाट पर गया था। बताया जा रहा है कि इन पांचों दोस्तों में से एक नहाते-नहाते गहरे पानी में चला गया, जिस को बचाने के लिए चारों दोस्तों ने कोशिश की और वह खुद डूबने लगे।

वहीं, मौके पर मौजूद मंगरू निषाद ने जब देखा कि यह पांचों दोस्त पानी में डूब रहे हैं तो उसने आनन-फानन में बिना कपड़ा उतारे ही नदी में छलांग लगा दी। और एक-एक कर चार युवकों को नदी के किनारे लाकर उनकी जान बचाई, लेकिन एक युवक धीरू को नहीं बचा सका।

जांच में जुटीं पुलिस और एसडीआरएफ की टीम    

घटना के बाद मौके पर पहुंची गोरखपुर के गीडा थाने की पुलिस और एसडीआरएफ की टीम ने नदी में काफी देर तक धीरू की तलाश की, लेकिन देर शाम तक उसका कुछ भी पता ना चला। अंधेरा होने के कारण एसडीआरएफ की टीम वहां से चली गई और मंगलवार सुबह से नदी में डूबे युवक की तलाश जारी है।

 

राप्‍ती नदी में डूब रहे चार युवकों के लिए भगवान बना मंगरू, ऐसे बचाई जान

 

रुपए के तगादे के लिए धर्मशाला से निकला था धीरू

नदी में डूबे युवक धीरू के बड़े भाई ने बताया कि, वीरू अपने पांच दोस्तों के साथ यहां नहाने आया था। इस दौरान वह गहरे पानी में चला गया और बाकी उसके चार दोस्त उससे कुछ दूरी पर थे। बचाने वाले युवक ने चार युवकों को तो बचा लिया, लेकिन मेरा भाई धीरू गायब है, जिसकी तलाश चल रही है। उन्‍होंने बताया, बचाए गए चार युवक में से एक का इलाज गोरखपुर के जिला अस्पताल में चल रहा है। वीरू के बड़े भाई ने बताया कि, हमने धीरू को पैसे के तगादे के लिए भेजा था।

एसडीआरएफ टीम तलाश में जुटी  

वहीं, एसडीआरएफ टीम के कर्मचारी ने बताया कि यह दोपहर 1:00 बजे की घटना है और हम लोग लगातार सर्च कर रहे हैं। जैसे हम लोगों को सूचना मिली है हमने तत्काल टीम को मूव कराया है। हम लोगों ने दो घंटे तक लगातार प्रयास किया, लेकिन अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है। नदी का बहाव काफी तेज है और चौड़ाई भी ज्यादा है। आशंका है कि शव आगे तक बह गया होगा। अंधेरा होने के कारण आज सर्च बंद किया जा रहा है और कल हम लोग दोबारा कोशिश करेंगे।

Related posts

कुंभ मेले को लेकर मुख्यमंत्री तीरथ रावत ने महिलाओं को दी शानदार सौगात

pratiyush chaubey

भारत में व्हाट्सएप डाउन: ऑनलाइन स्टेटस, प्राइवेसी सेटिंग्स फेस इश्यूज

Rani Naqvi

सतोज गांव का जुगनू, बना PUNJAB का CM , जानिए भगवंत मान की पूरी कहानी और सफर, राजनीति के लिए छोड़ दिया था परिवार

Rahul