Breaking News featured यूपी

योगी सरकार का बड़ा फैसला, वापस लिए जाएंगे लॉकडाउन में दर्ज ढाई लाख केस

मथुरा: 14 फरवरी को वृंदावन धाम जाएंगे योगी आदित्यनाथ

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आम जनता की समस्या को देखते हुए एक और कदम उठाया है। कोरोनावायरस के दौरान नई गाइडलाइन को तोड़कर कई लोग कानून की नजर में आ गए ऐसे सभी लोगों के खिलाफ केस दर्ज हुए थे।

अब मुख्यमंत्री ने ऐसे लगे ढाई लाख केस को वापस लेने का फैसला किया है। इससे जनता को बड़ी राहत मिलेगी।

लॉकडाउन में थी पुलिस की सख्ती

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए देश में लॉकडाउन लगाया गया था। इसी का सख्त तरीके से पालन करवाने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस भी मुस्तैद थी। लॉकडाउन के दौरान कई लोग अलग-अलग कारणों से बाहर आ रहे थे।

जाने-अनजाने उनसे लॉकडाउन के नियम भी टूट रहे थे। इसी का परिणाम रहा कि प्रदेश के ढाई लाख लोगों के खिलाफ केस दर्ज हो गया था।

छोटी गलती वाले सभी केस वापस

प्रशासन की तरफ से मिली जानकारी के अनुसार कुल ढाई लाख केस वापस लिए जाएंगे। यह केस उन सभी मामलों से जुड़े हुए हैं, जिनमें गलती सामान्य रही है। लॉकडाउन के दौरान आम पब्लिक के द्वारा कई ऐसी हरकतें की गईं, जो क्षमा योग्य थीं।

लेकिन महामारी को देखते हुए उन्हें दंडित किया गया। मास्क ना पहनना, घर से बाहर निकलना जैसी कई कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन शामिल है।

Related posts

पत्रकार बरखा दत्त और रवीश कुमार के ट्वीटर अकाउंट हैक

Rahul srivastava

ग्रेटर नोएडाः ओयो होटल में चल रहा था जिस्मफरोशी का धंधा, पुलिस ने मारा छापा

Shailendra Singh

तोगडिय़ा ने साधा केंद्र सरकार पर निशाना कहा, ट्रिपल तलाक की पैरवी में जुटी है मोदी सरकार

mahesh yadav