यूपी 1 कोरोना वायरस के बढ़त कहर को देखते हुए योगी सरकार का बड़ा फैसला, 30 अप्रैल तक के लिए यूपी के 15 जिले सील

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़त कहर को देखते हुए योगी सरकार ने बुधवार को बड़ा फैसला लिया है। योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश के 15 जिलों में 30 अप्रैल तक पूरी तरह से सील करने के आदेश दिया हैं। आज रात 12 बजे के बाद लखनऊ, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, आगरा, कानपुर, वाराणसी, शामली, मेरठ, सीतापुर, बरेली, बुलंदशहर, फिरोजाबाद, बस्ती, सहारनपुर और महाराजगंज पूरी तरह सील हो जाएंगे।

बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि इन जिलों को 30 अप्रैल तक पूरी तरह से सील किया जाएगा। 30 अप्रैल को स्थिति की समीक्षा की जाएगी, उसके बाद आगे का फैसला लिया जाएगा। इन 15 जिलों में कोई भी दुकान नहीं खुलेंगी और सामानों की होम डिलिवरी होगी। सिर्फ कर्फ्यू पास वालों को आने-जाने की इजाजत होगी।

इसके साथ ही यूपी सरकार का कहना है कि जिन जनपदों में कोविड-19 का प्रकोप ज्यादा है उनको पूरी तरह सील कर दिया जाए। जिन लोगों को काम करने के लिए पास दिए गए हैं उन पासों को निरस्तर कर दिया जाए और सभी समानों की होम डिलवरी की जाए। यहां तक की सब्जी मंडी भी बंद कर दी जाए और लोगों से सको पर निकलने के लिए मना किया जाए।

एसएनएमसी अस्पताल में  चौथी मौत

उत्तर प्रदेश में बुधवार को कोरोना से चौथी मौत हुआ। आगरा के एसएनएमसी अस्पताल में भर्ती कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज मनोरमा देवी (76 साल) ने दम तोड़ दिया है। महिला मरीज एक दिन पहले ही रेस्क्यू होकर अस्पताल आई थी। मृतक महिला अस्थमा की मरीज थी।

उत्तर प्रदेश में केवल दो मरीजों में कोरोना वायरस की पुष्टि

बुधवार को उत्तर प्रदेश में केवल दो मरीजों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। यह दोनों मरीज आगरा के हैं। इसी के साथ प्रदेश में अब तक 350 संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं। इसमें अकेले तबलीगी जमात के 193 लोग शामिल हैं।

 

नोएडा और आगरा में 50 से ज्यादा कोरोना के मरीज

आज के दो नए मरीजों को मिलाकर आगरा में 67 कोरोना पॉजिटिव मरीज हो गए है। इसके अलावा नोएडा में 58; मेरठ में 35; लखनऊ में 24; गाजियाबाद में 23; शामली में 17; सहारनपुर में 14;  बस्ती में 11; कानपुर, बुलंदशहर और सीतापुर में 8-8; फिरोजाबाद और वाराणसी में 7-7; बरेली और महाराजगंज में 6-6; गाजीपुर में 5; लखीमपुरखीरी, आजमगढ़ और हाथरस में 4-4; जौनपुर, हापुड़, बागपत और प्रतापगढ़ में 3-3; पीलीभीत, मिर्जापुर, मथुरा, बांदा और मुरादाबाद में 2-2; औरैया, रायबरेली, बाराबंकी, प्रयागराज, बिजनौर, शाहजहांपुर, बदायूं, हरदोई और कौशांबी में 1-1 मरीज हैं। अभी तक 27 मरीज स्वस्थ होकर अस्पताल से छुट्टी पा चुके हैं। इसमें आगरा के आठ, नोएडा के 10, लखनऊ के पांच, गाजियाबाद के तीन और कानपुर का एक मरीज शामिल है।

मेरठ के छावनी परिषद में सफाई कर्मियों पर फूल डाल कर उनका स्वागत और आभार व्यक्त किया गया

Previous article

कोरोना वायरस से बचने के चक्कर में अफवाहों में आकर जहरीली शराब पीने से ईरान में 600 से ज्यादा लोगों की मौत

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured