featured बिज़नेस यूपी

बेरोजगारों को रोजगार देने का बड़ा अवसर ला रही योगी सरकार, 3 लाख लोगों को मिलेगा फायदा

बेरोजगारों को रोजगार देने का बड़ा अवसर ला रही योगी सरकार, 3 लाख लोगों को मिलेगा फायदा

लखनऊ: बेरोजगारी की मांग कर रहे युवाओं के लिए योगी सरकार खुशखबरी लेकर आ रही है। खाद्य प्रसंस्करण इकाई के माध्यम से रोजगार के बड़े अवसर खुलने वाले हैं। इससे प्रदेश के कई युवाओं को नौकरी मिलेगी।

3 लाख लोगों को मिलेगा सीधा फायदा

कृषि के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश में कई बड़े प्रयोग किए जा सकते हैं। इसका सीधा फायदा प्रदेश के विकास और युवाओं को रोजगार देने में होगा। इसी बात को ध्यान में रखकर प्रदेश सरकार कुछ नया करने जा रही है। इसमें खाद्य प्रसंस्करण इकाई स्थापित की जाएगी। जिसके माध्यम से कृषि क्षेत्र का विकास होगा और युवाओं को रोजगार के अवसर भी मिलेंगे।

20 हजार करोड़ रुपए का होगा निवेश

इस पूरी योजना में लगभग ₹20 हजार करोड़ का निवेश करने की तैयारी है। इसके बाद ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसर बनेंगे। खाद्य प्रसंस्करण उद्योग नीति 2017 के अनुसार इस मिशन पर काम किया जा रहा है। इस नीति के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में अनेक सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी।

बेरोजगारों को रोजगार देने का बड़ा अवसर ला रही योगी सरकार, 3 लाख लोगों को मिलेगा फायदा

जिससे वहां निवेश के नए दरवाजे खुलेंगे, सरकार का यह भी दावा है कि पिछले 4 वर्षों में ₹10500 करोड़ का निवेश हुआ है। यह पूरा पैसा खाद्य प्रसंस्करण उद्योग में ही निवेश किया गया। अब इसमें नया सुधार करके 20 हजार करोड़ तक का निवेश लाने की तैयारी है। जिससे रोजगार के अवसर भी ज्यादा बढ़ेंगे।

फसल के मुताबिक लगेंगी खाद्य प्रसंस्करण इकाई

उत्तर प्रदेश के अलग-अलग हिस्से में अलग-अलग फसल का उत्पादन होता है। ऐसे में इसी के आधार पर खाद्य प्रसंस्करण इकाई लगाई जाएगी। उदाहरण के लिए प्रदेश के कई हिस्सों में दूध-घी तो कहीं हरी मिर्च, आम, काला नमक, केला जैसे उत्पादन होते हैं। वहीं पश्चिमी और मध्य उत्तर प्रदेश में मक्के की भी अच्छी खेती होती है। इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए इस पूरे मिशन को तैयार किया जा रहा है।

Related posts

अपराध पर लगाम लगाना तो दूर पीड़ितों को इंसाफ तक नहीं दिलाती पुलिस

Pradeep sharma

दामिनी के माता-पिता ने सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत से की भेंट, 8 साल से सुप्रीम कोर्ट में विचारधीन है बेटी की मौत का मामला

Trinath Mishra

मेडीकल रिपोर्ट के बाद उठे सवाल,क्या जहर से उडुपी के शिरूर मठ के प्रमुख की मौत हुई

mahesh yadav