27 मार्च को बहराइच दौरे पर जाएंगे सीएम योगी, जानिए पूरा कार्यक्रम

लखनऊ: प्रदेश के बुजुर्गों का ध्यान रखते हुए योगी सरकार ने 51.21 लाख बुजुर्गों को वृद्धावस्था पेंशन बांट दी है। बुजुर्ग पेंशनर्स को सीधे उनके खाते में पेंशन की रकम भेज दी गई है। इस रकम के भेजते ही योगी सरकार ने नया कीर्तिमान रच दिया है।

सरकार ने अपने तीन साल के कार्यकाल में तीन गुना वृद्धों को जोड़कर उनको पेंशन योजना का लाभ पहुंचाया है। इससे पहले सरकार ने 14.68 लाख बुजुर्गों को पेंशन बांटी थी।

गरीब बुजुर्गों को मिलता है लाभ 

गौरतलब है कि सरकार की हर योजना का लाभ प्रदेश के बुजुर्गों को मिल सके इसके लिए योगी सरकार संकल्पबद्ध है। सरकार बुजुर्गों को स्वर्णिम योजनाओं और सुविधाओं का लाभ देना चाहती है।

इसीलिए सरकार 60 साल से अधिक उम्र के गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले बुजुर्गों को पेंशन दे रही है। इस योजना में उन्हीं बुजुर्गों को फायदा मिलेगा जिनकी शहरी क्षेत्र की वार्षिक आय 56,460 है, वहीं ग्रामीण इलाकों में रहने वाले बुजुर्गों के लिए इसकी सीमा 46080 रखी गई है।

तीन साल में तिगुने हो गए पेंशनर्स 

वृद्धावस्था पेंशन के तहत योगी सरकार ने करीब 14,68, 847 नए वृद्ध पेंशनरों को योजना का लाभ दिया है। योजना से जुड़े बुजुर्गों को 500 रुपए मासिक पेंशन दी जाती है।

इससे पहले साल 2017 में जहां बुजुर्गों को केवल 300 से 400 रुपए की धनराधि मिलती थी वहीं योगी सरकार ने आते ही इसको 500 रुपए कर दिया है। इससे सरकार के ऊपर अतिरक्त बोझ भी पड़ा है।

साल 2017 में योगी सरकार के आने से पहले जहां वृद्ध पेंशन योजना में 1500 करोड़ रुपए खर्च होते थे, वहीं सरकार द्वारा इसमें 500 रुपए इजाफा करने के बाद अब करीब 3694.44 करोड़ रुपए खर्च हो रहे हैं।

कोरोना काल में मिले थे 1000 रुपए 

गौरतलब है कि कोरोना काल में महामारी से निपटने के लिए योगी सरकार ने गरीब वृद्ध पेंशनर्स को अतिरिक्त एक हजार रुपए की धनराशि दी थी।

इससे प्रदेश के गरीब बुजुर्गों को बड़ी राहत मिली थी। 2017 के सापेक्ष अगर तुलना करें तो अब वृद्धावस्था पेंशन का लाभ लेने वाले बुजुर्गों की संख्या में करीब 40.20 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इसे सरकार की बड़ी उपलब्धि भी माना जा रहा है।

पूर्व मंत्री व सपा नेता भगवती सिंह का निधन, अखिलेश ने रद्द की प्रेस कॉन्फ्रेंस

Previous article

अयोध्‍या में नागा साधु की ईंट से कूचकर निर्मम हत्‍या, मौके पर भारी पुलिस फोर्स

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured