कोरोना की रोकथाम के लिए हर जतन कर रही योगी सरकार, जानिए क्या हैं नए निर्देश

लखनऊ: कोरोना वायरस फिर जान का जंजाल बनता जा रहा है, हर दिन नए संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है। देश में यह आंकाड़ा 90 हजार प्रतिदिन तक पहुंच गया है। यूपी में भी इस महामारी की रोकथाम के लिए कई निर्देश सीएम की तरफ से जारी किए गए हैं।

बचाव और उपचार की हो प्रभावी व्यवस्था

सीएम योगी ने कहा कि कोरोना से बचाव और उपचार के सभी इंतजाम दुरुस्त कर लिए जाएं। हमारे पास पर्याप्त मात्रा में संसाधन उपलब्ध हैं, इसकी मदद से व्यवस्था को प्रभावी बनाने की जरूरत है। लोगों की बीच जागरूकता को पहुंचाने के लिए पब्लिक एड्रेस सिस्टम को भी एक्टिव किए जाने की बात कही। जब तक आम जनता कोरोना को लेकर सतर्क नहीं होगी, परिणाम अच्छे नहीं आ सकते हैं।

इन जिलों में होगी विशेष निगरानी

सीएम योगी ने कहा कि जनपद लखनऊ, कानपुर नगर, मेरठ, वाराणसी, प्रयागराज, गाजियाबाद, आगरा में विशेष सतर्कता बरतने की जरूरत है। यहां मास्क, उचित दूरी और सैनिटाइजेशन को अनिवार्य कर दिया जाए। इन सभी जगहों पर संक्रमण फैलने का खतरा काफी ज्यादा है।

कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए कक्षा 1 से 8 तक के सभी परिषदीय एवं निजी विद्यालयों को 11 अप्रैल, 2021 तक बन्द करने के निर्देश दे दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने निगरानी समितियों को सक्रिय करने के निर्देश देते हुए सर्विलांस सिस्टम को प्रभावी बनाने के लिए कहा है।

कोरोना की रोकथाम के लिए हर जतन कर रही योगी सरकार, जानिए क्या हैं नए निर्देश

कोरोना टेस्टिंग

शाम तक देनी होगी कोविड अस्पतालों की रिपोर्ट

पूरे राज्य में कोविड अस्पतालों की बहाली की स्थिति की रिपोर्ट आज शाम तक सीएम के समक्ष उपलब्ध करवानी है। एल-2, एल-3 कोविड अस्पतालों की संख्या को भी बढ़ाने की बात कही गई है। होम आइसोलेशन में रखे गए मरीजों की मॉनिटरिंग को भी सही तरीके से किए जाने का आदेश है। ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को इस खतरे से बचाने के लिए उचित इंतजाम करने की सलाह भी सीएम ने दी।

वैक्सीनेशन में न हो लापरवाही

मुख्यमंत्री ने वैक्सीनेशन की प्रगति की भी समीक्षा की, उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया को बहुत सावधानी से पूरा किए जाने की जरूरत है। कोई भी डोज बर्बाद न हो, इसका विशेष ध्यान रखा जाए। 01 अप्रैल, 2021 से 45 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को भी टीकाकरण में शामिल किया गया है, अब टीकाकरण की गति को बढ़ाने की जरूरत है। भारत सरकार की गाइडलाइन्स का अनुपालन करते हुए वैक्सीनेशन का कार्य पूरी प्रतिबद्धता से किया जाना चाहिए।

जानिए आज बंगाल में कहां होगी सीएम योगी की सभा और रोडशो

Previous article

देश में फिर लॉकडाउन की सुगबुगाहट तेज, कोरोना से प्रभावित राज्यों का क्या है विचार

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured