yashwant पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा बने टीएमसी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल के आगामी विधानसभा चुनाव से ठीक पहले पूर्व बीजेपी नेता यशवंत सिंहा को टीएमसी ने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी है। इसके साथ ही उन्हें नेशनल वर्किंग कमिटी में भी शामिल किया गया है।

बीते शनिवार यशवंत सिंहा टीएमसी में हुए थे शामिल

बीते शनिवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिंहा टीएमसी में शामिल हुए थे। इतना ही नहीं खुद कोलकाता स्थित टीएमसी दफ्तर पहुंच कर यशवंत सिन्हा ने पार्टी जॉइन की थी। बता दें कि यशवंत सिन्हा अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में वित्त और विदेश मंत्री थे। इतना ही नहीं यशवंत सिन्हा को अटल बिहारी वाजपेयी के करीबी नेताओं में शुमार किया जाता था। एक नौकरशाह से राजनेता बने यशवंत सिन्हा तीन दशकों तक बीजेपी में रहे थे।

यशवंत सिंहा ने ममता बनर्जी के तारीफ में कही ये बड़ी बातें

1- ममता बनर्जी की पार्टी में शामिल होने के मौके पर यशवंत सिन्हा ने कहा कि दीदी पर हुए हमले के बाद उन्होंने तय कर लिया था कि अब टीएमसी में जाएंगे।

2- आगे यशवंत सिंहा ने टीएमसी में शामिल होने के दौरान कहा कि अब बीजेपी के पास बचा ही कौन है। गठबंधन के तमाम सहयोगी दल बीजेपी को छोड़ चुके हैं।

3- यशवंत सिन्हा ने ममता बनर्जी की जमकर तारीफ करते हुए उन्हें बताया रियल फाइटर।

4- कंधार विमान अपहरण कांड का जिक्र करते हुए यशवंत सिंहा ने कहा कि ‘विमान अपहरण कांड को लेकर मीटिंग चल रही थी और इस दौरान ममता दीदी ने कहा था कि मैं आतंकियों के समक्ष खुद को बंधक के तौर पर पेश कर दूंगी। शर्त बस इतनी होगी कि बंधक बनाए गए यात्रियों को आतंकी छोड़ दें।’

2018 में बीजेपी को बोला था गुडबाय

गौरतलब है कि यशवंत सिन्हा 2014 के बाद से ही बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व से नाराज थे। 2014 से ही अकसर वह पार्टी नेतृत्व और केंद्र सरकार के फैसलों पर सवाल उठाते रहते थे। जिसके बाद उन्होंने 2018 में बीजेपी को गुडबाय बोलकर खुद को किनारा कर लिया था। अब पश्चिम बंगाल चुनाव से ठीक पहले उन्होंने टीएमसी जॉइन की है।

 

निजीकरण को लेकर बैंकों में ताला लगाकर कर्मचारियों ने की हड़ताल

Previous article

अखिलेश यादव पर दर्ज मुकदमे का विरोध, लखनऊ में फिर लगे विवादित पोस्‍टर

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured