featured धर्म भारत खबर विशेष

नवरात्र के आठवें दिन होती है मां महागौरी की पूजा, जानें पूजन-विधि

fichar navratri नवरात्र के आठवें दिन होती है मां महागौरी की पूजा, जानें पूजन-विधि

आज नवरात्रि का आठवां दिन है, और आज के दिन मां दुर्गा के आठवें रूप मां महागौरी की पूजा-अर्चना की जाती है।

हिंदू कथा के अनुसार मां महागौरी ने भगवान शिव को पति के रूप में पाने के लिए कई सालों तक तपस्या की। जिसके बाद भगवान शिव तपस्या से प्रसन्न हुए और मां महागौरी को स्वीकार किया।

कई सालों तक तपस्या करने से मां का शरीर काला पड़ गया था तब भगवान शिव ने उन्हें गंगाजल से नहलाया। जिसके बाद मां का शरीर स्वर्ण के समान चमकने लगा। तभी से मां के इस स्वरूप को महागौरी नाम दिया गया।

मां महागौरी का उल्लेख
हिंदू धर्म में नवरात्रि मनाने का खास महत्व होता है। इन 9 दिनों में मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की विधि-विधान से पूजी की जाती है। उन्ही में से एक हैं मां महागौरी, जिन्हे एक सौम्य देवी माना जाता है।
मां महागौरी की चार भुजाएं हैं और ये वृषभ की सवारी करती हैं। इनके ऊपर के दाहिने हाथ में अभय मुद्रा और नीचे वाले दाहिने हाथ में त्रिशूल है। ऊपर वाले बाएं हाथ में डमरू और नीचे के बाएं हाथ में वर-मुद्रा है।
कैसे करें मां महागौरी की पूजा ?
मां महागौरी की पूजा करने की विधि काफी सरल है। मां की प्रतिमा को पटरे पर या वस्त्र बिछाकर स्थापित करें। और उनको वस्त्र पहनाकर, रात की रानी के फूल चढ़ाएं और नारियल का भोग लगाएं।
फिर घी के दिए या कपूर से मां की मूर्ति और स्थापित कलश की आरती उतारें, और हो सके तो दुर्गा सप्तशती का पाठ करें। इससे मां की असीम अनुकंपा प्राप्त होती है, और मां मनचाहा फल देती हैं।
इन बातों का भी रखें ध्यान
नवरात्रि के दौरान दाढ़ी-मूंछ, बालों और नाखूनों को नहीं कटवाना चाहिए।
काले कपड़े पहनकर मां दुर्गा की पूजा न करें।
व्रत रखने वाले लोगों को जूते-बेल्ट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
व्रत रखने वालों को नवरात्रि के दौरान दिन में नहीं सोना चाहिए।
व्रत खोलने के लिए सिंघाडे का आटा, सेंधा नमक, आलू, मेवा, मूंगफली आदि का सेवन करें।

Related posts

फिटनेस ट्रेनर ‘कैजाद कपाड़िया’ के निधन से दुखी हुए टाइगर श्रॉफ

Kalpana Chauhan

लखनऊ: अवैध अतिक्रमण पर चला आवास विकास परिषद का बुल्डोजर, दुकानदारों ने किया विरोध

Saurabh

उत्तर प्रदेश में जंगलराज, महिलाएं बच्चियां नहीं सुरक्षित सरकार केवल विज्ञापन द्वारा वाहवाही लूटने की कर रही कोशिश – संजय सिंह

Rahul