September 17, 2021 2:01 am
featured देश भारत खबर विशेष

विश्व बाघ दिवस आज, जानिए अब देश में कितनी है बाघों की संख्या

Corbett Tiger विश्व बाघ दिवस आज, जानिए अब देश में कितनी है बाघों की संख्या

दुनियाभर में 29 जुलाई को विश्व बाघ दिवस मनाया जाता है। बाघ को एक लुप्तप्राय प्रजाति माना जाता है। इन्हे अम्ब्रेला स्पीशीज भी कहा जाता है, क्योंकि उनका संरक्षण उसी पर्यावास में कई अन्य प्रजातियों को भी संरक्षित करता है।

इंटरनेशनल टाइगर्स डेः यूपी में क्यों नहीं हुआ बाघों की संख्या में इजाफा, ये हैं वजह

क्यों मनाया जाता है विश्व बाघ दिवस ?

बाघ भारत का राष्ट्रीय पशु है इसके बावजूद देश में साल 2010 में बाघ विलुप्त होने की कगार पर पहुंच गए थे। हालांकि अब बाघों की संख्या देश में तेजी से बढ़ रही है। और बाघों को संरक्षण देने और उनकी प्रजाती को विलुप्त होने से बचाने के लिए विश्व बाघ दिवस मनाया जाता है।

Corbett Tiger.jpg 2 विश्व बाघ दिवस आज, जानिए अब देश में कितनी है बाघों की संख्या
दुनियाभर के 70 प्रतिशत बाघ केवल भारत में

बता दें कि दुनियाभर के सिर्फ 13 देशों में ही बाघ पाए जाते हैं। और इसके 70 प्रतिशत बाघ केवल भारत में हैं। हालांकि साल 2010 में भारत में बाघों की संख्या 1 हजार 7 सौ के पास पहुंच गई थी। जिसके बाद बाघों के प्रति जागरुकता फैलाने के लिए साल 2010 में रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में शिखर सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें हर साल अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस मनाए जाने की घोषणा की गई।

tiger 2 विश्व बाघ दिवस आज, जानिए अब देश में कितनी है बाघों की संख्या

देश में बाघों की संख्या 2967

अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस मनाने का ये परिणाम हुआ कि देश में तेजी से बाघों की संख्या बढ़ने लगी। जहां साल 2010 में बाघों की संख्या 1706 थी। वहीं साल 2018 की गणना के अनुसार देश में बाघों की संख्या 2967 हो गई। और फिलहाल देशभर में बाघों की संख्या तेजी से बढ़ने के साथ ही उनके ऑक्युपेंसी एरिया भी बढ़ रहा है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक देश में केरल, उत्तराखंड, बिहार और मध्यप्रदेश में बाघों की संख्या तेजी से बढ़ी है। साल 1973 में देशभर में मात्र 9 टाइगर रिजर्व ही थे, जिसकी संख्या अब बढ़कर 51 हो गई है।

Related posts

स्पेशल कोर्ट के मामलों में सुनवाई नहीं करेगा दिल्ली हाईकोर्ट

Pradeep sharma

भारत में कोरोना वायरस से करीब 7 लाख 42 हजार से ज्यादा, रिकवरी रेट 74.57% पर पहुंचा

Rani Naqvi

लखनऊ: महंगाई भत्ता ना मिलने पर सीएम योगी को ज्ञापन भेजेंगे कर्मचारी

Shailendra Singh