UP: अब महिलाएं चलाएंगी पिंक बस, अगले हफ्ते से शुरू होगी ट्रेनिंग

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश में महिला सशक्तिकरण की ओर एक और कदम बढ़ाया जा रहा है। प्रदेश में अब पिंक बसों की कमान महिला ड्राइवर्स के हाथों में होगी और इसके लिए परिवहन निगम को 17 महिला चालक मिल गई हैं।

यह भी पढ़ें: इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हुआ 6 साल के बच्चे का नाम,रंग लाई लॉकडाउन की मेहनत

इन सभी महिला चालकों की ड्राइविंग ट्रेनिंग मार्च महीने के पहले सप्‍ताह से शुरू हो जाएगी। इन्‍हें कानपुर स्थित कार्यशाला में ट्रेनिंग के दौरान पहले एलएमवी चलाना सिखाया जाएगा। इसके बाद रोडवेस बस चलाने का प्रशिक्षण दिया जाएगा और इसके लिए सभी औपचारिकताएं पूरी हो गई हैं।

रोडवेज प्रबंधन की तलाश पूरी

दरअसल, रोडवेज प्रबंधन लंबे समय से पिंक बसों के लिए महिला ड्राइवर्स की तलाश कर रहा था और अब उसकी तलाश पूरी हो गई है। कौशल विकास मिशन और रोडवेज प्रबंधन द्वारा 17 महिला ड्राइवर्स की सूची को अंतिम रूप दिए जाने के बाद इनकी ट्रेनिंग की तैयारियां शुरू हो गई हैं।

परिवहन निगम बनवाएगा डीएल

रोडवेज कार्यशालाओं में प्रशिक्षण में महिला चालकों का हाथ साफ होने के बाद इनकी दक्षता का परीक्षण किया जाएगा। परिवहन निगम प्रशासन जब पूरी तरह संतुष्ट हो जाएगा तो इनके डीएल (ड्राइविंग लाइसेंस) बनवाएगा, जिससे महिलाओं को भटकना न पड़े। इन महिलाओं के हाथों में पिंक बसों की स्‍टेयरिंग एक प्रोफेशनल चालक की तरह होगी।

नि:शुल्‍क होगी महिला चालकों की ट्रेनिंग

परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक धीरज साहू का कहना है कि, महिला सशक्तीकरण को लेकर कौशल विकास मिशन के सहयोग से पिंक बसों के लिए प्रशि‍क्षण के लिए 17 महिलाओं का पहला बैच तैयार हो गया है। इनकी ट्रेनिंग मार्च के पहले सप्‍ताह से कानपुर स्थित कार्यशाला में शुरू हो जाएगी। इनका प्रशिक्षण नि:शुल्‍क होगा। औपचारिकताएं पूरी हो गई हैं। इनके प्रशिक्षण का शेड्यूल बनाया जा रहा है।

इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हुआ 6 साल के बच्चे का नाम,रंग लाई लॉकडाउन की मेहनत

Previous article

बसवार गांव पहुंची रीता बहुगुणा जोशी, मामले की जांच के दिए आदेश

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured