यूपी 15 4 कोरोना की दूसरी लहर के बीच कैसे होगा पठन-पाठन, जानिए क्या है नई गाइडलाइन

लखनऊ: कोरोना की दूसरी लहर फिर परेशानी पैदा कर रही है। शिक्षण कार्य प्रभावित न हो, इसके लिए प्रशासन ने कुछ गाइडलाइन जारी की हैं। इसी आधार पर आने वाले दिनों में पूरी पढ़ाई-लिखाई होगी।

ऑनलाइन चलेगी क्लास

स्थानीय स्थिति के आधार पर विद्यालय कैंपस पूरी तरह से बंद भी रखा जा सकता है। ऐसे में सभी तरह की कक्षाएं और शैक्षणिक कार्य ऑनलाइन संचालित किए जाने की योजना है। जिन स्कूलों में अभी भी प्रैक्टिकल परीक्षाएं हो रही हैं, वहां जरूरी नियमों का पालन किया जाएगा। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्थानीय परिस्थिति के हिसाब से जिलाधिकारी निर्णय लेंगे।

कोरोना

गाइडलाइन

Screenshot 59 कोरोना की दूसरी लहर के बीच कैसे होगा पठन-पाठन, जानिए क्या है नई गाइडलाइन

सभी तरह के विश्वविद्यालय, महाविद्यालय और उच्च शिक्षण संस्थान को संचालित करने की जिम्मेदारी कुलपति की संतुष्टि पर जिलाधिकारी द्वारा ली जाएगी। क्षेत्र की मौजूदा स्थिति और व्यवस्थाओं को देखते हुए यह निर्णय लिया जाएगा।

कोरोना गाइडलाइन का होगा सख्ती से पालन

अगर शैक्षणिक कार्य परिसर में संचालित किया जा रहा है तो मास्क के साथ, हाथों की स्वच्छता और सामाजिक दूरी जैसे मानकों का पालन पूरी तरह से किया जाएगा। इसके लिए सभी इंतजाम भी मौजूद रहेंगे। अगर दो शिफ्ट में परीक्षा या पढ़ाई आयोजित की जा रही है तो इसके बीच में पूरे परिसर को सैनिटाइज किया जाएगा।

कोरोना की दूसरी लहर के बीच कैसे होगा पठन-पाठन, जानिए क्या है नई गाइडलाइन

सैनिटाइजेशन

सभी छात्रों को सोशल डिस्टेंसिंग और हैंड सैनिटाइज करवाने के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा। बिना मास्क के किसी की भी एंट्री नहीं होगी। प्रवेश करवाने के लिए एक से अधिक द्वार होने पर उनका इस्तेमाल भी सुनिश्चित किया जाएगा।

परिसर के भीतर या बाहर खाने की नहीं होगी बिक्री

विश्वविद्यालय कैंपस के बाहर या अंदर के इलाकों में किसी भी तरह का खाने-पीने का सामान नहीं बेचा जाएगा। इससे संक्रमण के फैलने की संभावना और बढ़ जाती है। ऐसे में सभी विक्रेताओं को यह अनुमति नहीं दी जाएगी। संस्थान के परिसर में आने-जाने वाले सभी लोगों को मास्क और 6 फीट की दूरी बनाकर रहना होगा। इसके साथ ही सबकी थर्मल स्कैनिंग भी की जाएगी।

संक्रमण के लक्षण मिलने पर स्वास्थ्य कर्मियों को तुरंत जानकारी दी जायेगी और पूरी प्रोटोकॉल का पालन किया जायेगा। बच्चों के बीच जागरूकता को फैलाने की भी पूरी कोशिश होगी, साथ ही उन्हें एक-दूसरे से खाना-बर्तन इत्यादि साझा न करने की सलाह दी जायेगी। संक्रमित न होकर आप अपनी और सामने वाले दोनों की सेहत का ख्याल रखते हैं।

कोरोना को लेकर केंद्र ने राज्यों के साथ बुलाई बैठक, हो सकता है बड़ा फैसला

Previous article

बढ़ते कोरोना वायरल ने बढ़ाई चिंता, इन राज्यों में स्कूल बंद?

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured