September 20, 2021 10:15 pm
featured यूपी

थर्ड डिग्री देने वाले पति को पत्नी ने मार डाला, फिर ऐसे हुई गिरफ्तारी

थर्ड डिग्री देने वाले पति को पत्नी ने मार डाला, फिर ऐसे हुई गिरफ्तारी

फतेहपुर: फतेहपुर जिले में अपने पति की प्रताड़ना से तंग आकर उसकी पत्नी ने घर में रखी लाइसेंसी दो नली बंदूक से पति की गोली मारकर हत्या कर दी। मृतक के भतीजे जय चंद्र मौर्या ने बताया कि मृतक ओमप्रकाश अपनी पत्नी, बेटे और बेटी को खूब मारता-पीटता था। इसी से विवाद के बीच शुक्रवार की रात उसकी पत्नी श्रीमती देवी ने ओमप्रकाश को गोली से उड़ा दिया।

सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए पड़ताल शुरू कर दी है। इसके साथ ही अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार, पुलिस उपाधीक्षक अनिल कुमार भी घटनास्थल पर पहुंचे। मृतक की पुत्री के आधार पर आरोपी पत्नी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

संझिया गांव का है मामला  

जिले के हथगाम थाना क्षेत्र स्थित संझिया गांव के रहने वाले 54 वर्षीय ओम प्रकाश मौर्या अपनी 52 वर्षीया पत्नी श्रीमती देवी और पुत्री लक्ष्मी के साथ हथगाम कस्बे में रहते थे। स्थानीय लोगों के अनुसार पति-पत्नी के बीच अक्सर ही किसी न किसी बात को लेकर विवाद होता रहता था। शुक्रवार की रात से श्रीमती देवी और ओम प्रकाश के बीच घरेलू कलह होने लगी। इसी बीच जब रात में सभी लोग सो गए तभी ओम प्रकाश की पत्नी ने घर में रखी डबल बैरल बंदूक से ओम प्रकाश के सिर में फायर झोंक दिया। इससे मौके पर ही ओम प्रकाश ने दम तोड़ दिया।

फायरिंग की आवाज सुनकर उनकी 17 वर्षीय पुत्री लक्ष्मी की नींद खुल गयी। दौड़ते-भागते जब वह अपने पिता के कमरे में पहुंची तो उसे अपने पिता का शव बिस्तर पर पड़ा मिला। यह देख लक्ष्मी शोर मचाकर जोर-जोर से रोने लगी। फायरिंग और लक्ष्मी के रोने की आवाज सुनकर आसपास के लोग भी मौके पर एकत्रित हो गए। पड़ोसियों ने डायल 112 को सूचना दी। कुछ ही देर बाद हथगांम पुलिस इंस्पेक्टर आदित्य कुमार सिंह भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और वरिष्ठ अधिकारियों को मामले से अवगत कराया।

पुलिस ने आरोपित महिला को किया गिरफ्तार

इस पर अपर पुलिस अधीक्षक और पुलिस उपाधीक्षक भी घटनास्थल पर पहुंचे और निरीक्षण किया। पीड़ित और आरोपी की बेटी लक्ष्मी के अनुसार दोनों के बीच में छोटी-छोटी बात को लेकर विवाद होता था। आज यह मामला इतना बढ़ गया कि उनके पिता की जान चली गयी। लक्ष्मी की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया है।

रद्द होगा डबल बैरल का लाइसेंस

पुलिस उपाधीक्षक अनिल कुमार ने बताया कि, जिस असलहे से ओमप्रकाश की हत्या हुई है, वह बंदूक मृतक के नाम से लाइसेंसी थी। ऐसे में अब इस शस्त्र के लाइसेंस को रद्द करने के लिए पत्रचार किया जाएगा। फिलहाल, घटना के बाद हत्या में प्रयुक्त शस्त्र को जब्त कर लिया गया है।

दो साल पहले बेटे ने खुद को मारी गोली

मृतक के रिश्तेदार जयचंद्र मौर्या ने बताया कि, ओमप्रकाश के 19 वर्षीय पुत्र शिवजीत ने भी खुद को गोली से उड़ा लिया था। शिवजीत उस समय कानपुर से बीटेक कर रहा था। आत्महत्या का कारण घरेलू मारपीट और हिंसा बताई जा रही है।

थर्ड डिग्री देता था ओमप्रकाश

मृतक ओमप्रकाश के भतीजे जयचंद्र ने बताया कि, ओमप्रकाश आए दिन अपने घरवालों को पीटता था। वह किसी न किसी बात पर घर में अपनी बेटी, पत्नी और बेटे को मारता रहता था। इसी के चलते उसका छोटा बेटा आत्महत्या कर चुका था। मृतक ओमप्रकाश मारपीट के दौरान पत्नी बेटी को गैस चूल्हे से जलाने के साथ ही लोहे के राड से पीटता था। इसी विवाद के कारण ओमप्रकाश का बड़ा बेटा इंद्रजीत अपनी पत्नी पुष्पा के साथ घर से अलग संझिया गांव में रहता है।

Related posts

रविवार को शोपियां और पुलवामा जिले में दिखा बंद का असर

Rani Naqvi

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने की कोलकाता में पश्चिम बंगाल की सीए ममता बनर्जी से मुलाकात

Rani Naqvi

नहीं रहे सौमित्र चटर्जी, लंबे समय से थे बीमार

Hemant Jaiman