इस वजह से सहती हैं महिलाएं पति के अत्याचार

इस वजह से सहती हैं महिलाएं पति के अत्याचार

नई दिल्ली। किसी भी रिश्तें की खूबसूरती तभी कायम रहती है जब उस रिश्तें में पति और पत्नि दोनों की तरफ से बराबर की इज्जत दी जाती है। अगर किसी महिला का पति उसके साथ गाली गलौज करता है उसका शोषण करता है और फिर भी उनका रिश्ता कायम हो तो यकीनन वो रिश्ता मजबूरी पर चलता है। और महिलाएं उस रिश्तें को निभाने के लिए मजबूर हैं।

क्‍या आपने कभी सोचा है कि महिलाएं इस तरह के रिश्‍ते में रहने पर क्‍यों मजबूर होती हैं? इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। एब्‍यूज़िव रिलेशनशिप एक कड़वी सच्‍चाई है जिसे आज के दौर में भी महिलाएं झेल रही हैं। अपने पार्टनर को गालियां देने की शुरुआत किसी छोटे से मुद्दे से हो सकती है और आगे चलकर ये बात कोई भयंकर सच का रूप ले लेती है।

आपने कई बार ऐसा जरुर सुना होगा कि अगर किसी महिला का पति उसे मारता है उस पर अत्याचार करता है तो वो उसके साथ क्यो रहती है उसे छोड़ क्यो नहीं देती। आज हम आपको यहीं बताएंगे कि आखिर ऐसा क्यो होता है। क्योकि कोई भी महिला अपने पति के तमाम अत्याचार सहने के बाद भी उसके साथ रहती है।

डर

कई महिलाएं अपने मन में बैठे डर की वजह से ऐसे रिश्‍ते से बाहर नहीं निकल पाती हैं। ये डर ही होता है जो उन्‍हें एब्‍यूज़िव रिलेशनशिप में बांधे रखता है। इसमें अकेले रहने का डर, पीछा करने का डर या आत्‍मनिर्भर ना हो पाने का डर शामिल होता है। अपने बच्‍चे को खोने का डर भी महिलाओं को रहता है। इस वजह से महिलाएं गाली गलौज वाले रिश्ते को ही अपनी जिंदगी बना लेती हैं।

समाज क्या बोलेगा

अगर कोई महिला इन तमाम चीजों के बाद भी साथ रहती है तो उसे समाज का भी खौफ होता है कि उसे अकेला देख समाज क्या कहेंगा महिलाओं को समाज में अपनी साख का भी डर होता है। 21वीं सदी में भी लोग समाज में होने वाली बातों से डरते हैं। महिलाएं अपने रिलेशनशिप को दूसरों की गॉसिप का मुद्दा नहीं बनने देना चाहती हैं। साथ ही वो समाज के हज़ारों सवालों से बचने के लिए भी ऐसा करती हैं। आजतक समाज ना जाने कितनी जिंदगियां निगल चुका है और आगे भी शायद ऐसा ही दोहराता रहेगा।

आर्थिक परेशानी का डर

कई महिलाएं मुख्य रुप से अपने पति पर निर्भर रहती है जिसकी वजह से उन्हें ये डर रहता है कि अगर वो अपने पति से अलग हो गई तो उनका खर्चा कैसे उठेगा। इस वजह से वो ऐसे रिलेशनशिप से बाहर नहीं निकल पाती हैं, जहां दिन रात उनका अपमान होता है। उन्‍हें लगता है कि अगर वो अपने पति से रिश्‍ता तोड़ देंगी तो दाने-दाने को मोहताज हो जाएंगी। महिलाओं द्वारा अपने पति के अत्‍याचार सहने का ये ये प्रमुख कारण है। कई महिलाओं को ये चिंता भी रहती है कि अलग होने पर वो कहां रहेंगी और क्‍या खाएंगी और अगर बच्‍चे भी उनके साथ ही रहे तो वो सब कुछ कैसे संभालेंगी।

कुछ महिलाओं को नहीं लगता गलत

अक्सर ऐसा होता है तो महिलाएं ये सोचती है कि उनके साथ इस तरह की चीजें होना गलत नहीं है और उन्हें ये सभी बातें सामान्य लगती हैं।
तो ये वो कारण हो सकते हैं जिसकी वजह से तमाम परेशानी झेलने के बाद भी महिलाएं अपने पति से अलग नहीं होती हैं।