एक बैठक में बोले पर्रिकर, ‘लोग पूछते हैं कि मैं स्कूटर से क्यों चलता हूं, तो सुनो’

एक बैठक में बोले पर्रिकर, ‘लोग पूछते हैं कि मैं स्कूटर से क्यों चलता हूं, तो सुनो’

एजेंसी, नई दिल्ली। गोवा के मुख्यमंत्री और पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर का निधन हो गया है। वो 63 साल के थे। पणजी में अपने बेटे के घऱ पर उन्होंने रविवार (17 मार्च) को आखिरी सांस ली। उन्हें एक ईमानदार, कर्मठ और सादगी जीवन जीने वाले नेता के रूप में याद किया जाता रहेगा। अपने सफल राजनीतिक जीवन के दौरान भी पर्रिकर को अक्सर गोवा की सड़कों पर स्कूटर दौड़ाते देखा जाता था। हालांकि, एक इंटरव्यू में उन्होंने यह बात कबूल की थी कि अक्सर उनके दिमाग में कुछ न कुछ चलता रहता था, इस वजह से उन्होंने बाद में स्कूटर चलाना छोड़ दिया था।
भाजपा कार्यकर्ताओं की एक बैठक में उन्होंने कहा था, ‘लोग मुझसे अक्सर पूछते हैं कि क्या मैं स्कूटर से अब सफर करता हूं या नहीं। मैं उन्हें बताना चाहूंगा कि अब मैं स्कूटर नहीं चलाता। मेरे दिमाग में मेरे काम से संबंधित बातें हमेशा घूमती रहती हैं, मैं हमेशा अपने काम के बारे में सोचता रहता हूं। ऐसे में अगर मैं स्कूटर चलाऊंगा तब मैं सड़क हादसे का शिकार हो सकता हूं क्योंकि मेरा दिमाग कहीं और रहता है।’
पर्रिकर सादगी के पर्याय थे। वो अक्सर हाफ शर्ट और सादे पैंट में दिखते थे। उन्हें अक्सर चाय की दुकान पर सादगीपूर्ण जीवन में देखा जा सकता था। एक शादी समारोह में उन्हें लाइन में लगा हुआ देखा गया था। उस वक्त उनकी यह तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी। साल 2014 में जब पर्रिकर सीएम थे और उनके बेटे की शादी हुई थी, तब भी उन्होंने बहुत सादे कपड़े पहने थे। इतना ही नहीं वो शादी के अगले दिन ही सुबह-सुबह दफ्तर पहुंच गए थे।