chaina 1 2 भारत से जंग करना चीन को पड़ेगा भारी, जानिए भारत के सामने कमजोर क्यों पड़ा चीन..

जब से चीन ने पूरी दुनिया को कोरोना में उलझाया है। तब से लगातार चीन पड़ोसी मुल्कों को दबाने की कोशिश कर रहा है। यही कारण है कि, लद्दाख में सकी मनमानी बढ़ गई है। लेकिन क्या आप जानते चीन कभी भी भारत से टकराने की गलती नहीं करेगा। अगर वो भारत से जंग करता है तो सबसे ज्यादा नुकसान चीन को ही उठाना पड़ेगा।

india vs chaina भारत से जंग करना चीन को पड़ेगा भारी, जानिए भारत के सामने कमजोर क्यों पड़ा चीन..रतीय सेना के पूर्व अध्यक्ष जनरल बिक्रम सिंह का मानना है कि चीन के मौजूदा हालात ऐसे नहीं हैं कि वह युद्ध जैसी स्थिति पैदा करे, बल्कि वह एक तीर से दो निशाने मारने की फिराक में है। जनरल सिंह का कहना है दोनों देशों को इसका शांतिपूर्ण समाधान निकालना होगा क्योंकि दुनिया बहुत बड़ी है और इसमें दो महाशक्तियों के रहने के लिए बहुत जगह है।

जरनल सिंह ने एक संपादकीय में बताया है कि अपने घर के अंदर कोरोना वायरस से पैदा हुए हालात के साथ-साथ दुनियाभर के निशाने पर खड़ा चीन, हिमालय में कोई खतरा नहीं उठाएगा।
भारत उसका मुख्य क्षेत्रीय रणनीतिक प्रतिद्वंदी है और भारत के साथ कोई विवाद न सिर्फ चीन की परेशानी बढ़ाएगा बल्कि 2050 तक ग्लोबल सुपरपावर बनने की उसकी ख्वाहिश भी लटक जाएगी।

जनरल सिंह का कहना है कि शी जिनपिंग के सामने चीन की सिकुड़ती अर्थव्यवस्था, अमेरिका के साथ खड़ा हुआ ट्रेड-विवाद, उत्पादन इकाइयों का बाहर जाना और बेल्ट ऐंड रोड इनिशेटिव जैसी चुनौतियां खड़ी हैं। वहीं, हॉन्ग-कॉन्ग में विरोध प्रदर्शन, ताइवान का कठोर रुख और कोरोना वायरस को लेकर दुनियाभर में उठ रही जांच की मांग ने उसका सिर दर्द बढ़ा दिया है।
चीन को भारत की सेना की ताकत का भी पूरा अंदाजा है।

उसने देखा है कि 1962 की जंग के बाद से भारत की सेना और ज्यादा काबिल, जिम्मेदार और रिस्पॉन्सिव हो चुकी है। दोनों देशों की सेनाएं कई साल से एक साथ आपदा की स्थिति में राहत और बचाव कार्य एक साथ करती हैं और आतंकवाद के खिलाफ ऑपरेशन में भी साथ काम करती हैं। ऐसे में एक-दूसरे की सैन्य ताकत की समझ बढ़ चुकी है और दोनों ही ऐसी कोई नौबत नहीं चाहेंगी क्योंकि उन्हें पता है कि उसका नतीजा क्या होगा।

https://www.bharatkhabar.com/guidelines-of-up-government-for-opening-dharmasthals-shopping-malls/
वहीं दूसरी ओर पाकिस्तान को छोड़कर एशिया के बाकी सभी देशों में चीन के बर्ताव और कोरोना में भूमिका को लेकर उसके खिलाफ माहौल बन चुका है। ऐसे में वो भरात से जंग करके अपने लिए नई मुसीबत कभी भी नहीं खड़ी करेगा। क्योंकि वो जानता है कि, इस समय भारत से पंगा लेकर वो अपने आप को कितनी बड़ी मुसीबत में डाल देगा। क्योंकि दुनिया के बड़े देश भारत के साथ खड़े हैं। और चीन की आलोचना कर रहे हैं। अगर वो धोखे से भी भारत पर हमला करता है तो उसे भारी किमत चुकानी पड़ेगी।

जम्मू-कश्मीर पर भूतो का साया ?, लॉकडाउन में पढ़े रोंगटे खड़े कर देने वाले किस्से

Previous article

यूपी के फतेहपुर में पत्रकारों पर हुआ केस दर्ज, पत्रकारों ने किया अनोखा विरोध प्रदर्शन..

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured