जब मोहन भागवत से पूछा गया पद्मावत पर सवाल तो साध ली चुप्पी

नई दिल्ली। पूरे देश में संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती रिलीज हुई तो, लेकिन हिंसा के चलते अभी भी कई राज्यों में बैन है। मुंबई के एक कार्यक्रम में संवय सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत से जब पद्मावत पर हो रही हिंसा के बारे में कुछ पूछा गया तो उनके मुंह से शब्द नहीं निकले।

 

जब उनसे तोड़ फोड़ और आग जनी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने मुंह पर उंगली रख ली।बता दें कि बिज़नेस क्षेत्र में राष्ट्रीयता और एथिक्स मुद्दे पर संबोधन देने आए मोहन भागवत ने यहां पद्मावत पर कोई चर्चा नहीं की। बता दें कि हिंसा के चलते करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामड़ी ने भी मोहन भागवत और पीएम मोदी के मामले पर शांति से सवाल खड़े किए थे।

मोहन भागवत ने कहा कि हम पिछले कई सालों से दुश्मनों से लड़ते हुए आ रहे हैं, जिसके चक्कर में जन-धन की हानि होती है। मोहन भागवत बोले कि आज भी हम अपने आपको समझने के लिए विदेशी ग्रंथों को पढ़ते हैं, खुद के ग्रंथों को नहीं पढ़ते हैं। भागवत ने कहा कि प्रतिस्पर्धा सही है, लेकिन गुस्से में गलत फैसले उठाकर भारत को महाशक्ति नहीं बना सकते।