September 22, 2021 10:38 pm
Breaking News यूपी

जब गंगा की उफान में समा गए मौसेरे भाई, जानिए क्या है मामला

जब गंगा की उफान में समा गए मौसेरे भाई, एसडीआरएफ बुलाई गई

फतेहपुर: जिले में गंगा नदी में भीषण उफान के बीच शुक्रवार को दो मौसेरे भाई शिवम और शिवशंकर डूब गए। सूचना के बाद जिला प्रशासन से तहसीलदार सर्वेश सिंह, नायब तहसीलदार विकास पाण्डेय और हुसैनगंज थानाध्यक्ष रणजीत बहादुर सिंह भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। उफनाई गंगा में समाए मौसेरे भाईयों को खोजने के लिए काफी प्रयास किया गया लेकिन सफलता नहीं मिली। मामले को देखते हुए लखनऊ से एसडीआरएफ की टीम बुलाई गई है। अब शनिवार को सुबह से सर्च अभियान चलेगा।

गाजियाबाद गौतमबुद्ध नगर जिले के रहने वाले 15 वर्षीय शिवम पाण्डेय पुत्र गंगा शंकर पाण्डेय और धाता थाना क्षेत्र के गलेहरा निवासी 22 वर्षीय शिवशंकर द्विवेदी पुत्र लालजी द्विवेदी का ननिहाल बाकरगंज स्थित बड़ा शिवाला राजा अवस्थी के यहां है। यहां पर ये दोनों अपनी माँ के साथ बीमार नानी को देखने आए थे। इसके बाद शाम साढ़े चार बजे शिवम अपनी माँ राधा और मौसी के लड़के शिवशंकर के साथ पक्का घाट भिटौरा स्नान करने जा पहुंचे।

यहां पर तेज बहाव को देखते हुए स्थानीय लोगों ने गंगा स्नान करने से रोंका। लेकिन तीनों नही माने और स्नान करने के लिए नदी में उतर गए। तभी तेज बहाव में शिवम और शिव शंकर डूब गए। मौके पर मौजूद लोगों ने दोनों  को बचाने का भरसक प्रयास किया लेकिन सफलता नही मिली। इसी बीच किसी ने डायल 112 को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने हुसैनगंज पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारियों ने स्टीमर से दोनों को खूब खोजने का प्रयास किया लेकिन वह भी खाली हाथ रहे। शिवम की मां राधा का रो रो कर बुरा हाल है।

WhatsApp Image 2021 08 14 at 5.03.28 PM जब गंगा की उफान में समा गए मौसेरे भाई, जानिए क्या है मामला

शिवम को बचाने में शिव शंकर डूबा

तेज बहाव में अचानक शिवम का पैर डगमगाया तो वह तेज बहाव में घिरने लगा। यह देखकर उसका मौसेरा भाई शिवशंकर भी उसे बचाने के लिए हाथ बढ़ाने लगा। इसी बीच शिवशंकर का पैर भी बहाव के बीच फंसने लगा। जब तक दोनों निकल पाते कि गंगा की भीषण लहरों में दोनों डूबने लगे। उन्हें बचाने के लिए जब तक मौके पर कोई सहायता पहुंचती की दोनों मौसेरे भाई डूब चुके थे। शिवम की मां राधा ने बताया कि दोनों को तैरना नहीं आता था।

जिला प्रशासन ने एसडीआरएफ बुलाई गई

नायब तहसीलदार विकास पाण्डेय ने बताया कि भिटौरा स्थित पक्के घाट के आसपास करीब तीन किलोमीटर क्षेत्र में स्टीमर में जाल लगा कर डूबे मौसेरे भाईयों को खोजने का भरसक प्रयास किया गया। गंगा नदी में तेज बहाव होने के कारण सफलता नहीं मिली। ऐसे में लखनऊ स्थित एसडीआरएफ को पत्र भेजकर मौके पर बुलाया गया है। अब शनिवार को जल्द से जल्द सर्च अभियान चलेगा।

Related posts

बहुमुखी होने के साथ-साथ मजाकिया भी थे प्रणब मुखर्जी: मोदी

Mamta Gautam

दैनिक राशिफल: काम में सफलता के लिए कैसे करें दिन की शुरुआत

Aditya Mishra

रोहिंग्या मुस्लिम केस: केंद्र ने कहा, कुछ शरणार्थियों के पाक आतंकियों से संबंध

Pradeep sharma