wheat pasta खाने से होते हैं ये सारे फायदें, आप भी जाने

नई दिल्ली। आजकल के बच्चों को रोटी से ज्यादा पास्ता से प्यार हो गया है इसलिए तो उनको रोटी से ज्यादा पास्ता खाना पसंद हैं। कई बार बच्चें खाना खाने पर आनाकानी करते हैं और मुख्य तौर पर वो ब्रेकफास्ट को लेकर काफी बवाल मचाते हैं और ब्रेकपास्ट के लिए पास्ता की जिद करते हैं। लेकिन लोग पास्‍ता को हेल्‍दी ब्रेकफास्‍ट का विकल्‍प नहीं मानते है, जिसकी वजह से वो बच्चों को ब्रेकफास्ट के लिए पास्ता नहीं देते हैं पर अगर हम आपसे कहें कि आप अपने बच्चों को हर रोज ब्रेकफास्ट में पास्ता खाने दे और उनकी तबीयत भी पास्ता से खराब नहीं होगी।

तो आप सोचोगें कि शायद हम मजाक कर रहें हैं पर ऐसा नहीं है हम मजाक नहीं कर रहें हैं। जी हां..अब से आप अपने बच्चें को हर रोज नाश्तें में पास्ता दे पर शर्त ये है कि आप उन्हें पास्ता को दे लेकिन व्हीट पास्ता जी हां.. जो मैदे से नहीं बल्कि गेंहू से बना होता है। आम तौर पर हम लोग बच्चों को पास्ता इसलिए खाने नहीं देते क्योकि वो मैदे का बना होता है। लेकिन आजकल बाजार में कई तरह के पास्‍ता की वैरायटी मौजूद है। लेकिन अगर आपके बच्‍चें को पास्‍ता का शौक है तो आप व्‍हीट पास्‍ता बनाकर उसे दे सकते हैं।

हेल्‍दी बैलेंस्‍ड डाइट

व्‍हीट पास्‍ता गेंहू का बना होता है इसमें फाइबर, आयरन, विटामिन बी और मिनरल्स के भरपूर मात्रा होती है। जहां साधारण एक कप पास्‍ता में 221 कैलोरी होती है, साधारण पास्‍ता में डायटरी फाइबर और कार्बोहाइड्रेट की मात्रा ज़्यादा होती है जो दिल से जुड़ी की बीमारियों का कारण बनता है। जबकि होल वीट पास्ता के एक कप में 174 कैलोरी होती है। इसल‍िए डाइट करने वालों और बच्‍चों के ल‍िए ये एक हेल्‍दी बैलेंस्‍ड डाइट है। होल ह्वीट पास्‍ता बहुत ही फायदेमंद और पोषण से भरपूर होता है।

यह पास्ता बच्चों के लिए काफी अच्छा और सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट होता है। इसे आसानी से बच्‍चे अपने साथ टिफिन में ले जा सकते हैं, इसे बच्‍चें बहुत ही चाव से खाना पसंद करेंगे। पास्‍ता को हेल्‍दी बनाने के ल‍िए आप तरह तरह की वेज‍िटेबल के साथ पकाकर भी इसे हेल्दी बना सकती है। आइए जानते है होल व्हीट पास्ता कैसे हेल्‍दी है और इसे खाने के क्‍या क्‍या फायदे हैं?

ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल

व्हीट पास्ता ना सिर्फ बच्चों के लिए बल्कि उन लोगों के लिए भी काफी अच्छा साबित होता है जिनका ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल नहीं रहता है अगर वो भी व्हीट पास्ता खाते हैं तो उऩका ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रहता है।

मोटापा नहीं बढ़ाता

अगर आप अपने मोटापे के चलते पास्ता नहीं खाते तो अब से व्हीट पास्ता खाएं ये आपका मोटापा नहीं बढ़ाता।

कोलेस्ट्रॉल नहीं बढ़ाता

कई अध्ययनों के अनुसार, आधा कप पास्ता खाने से कार्डियोवैस्कुलर डिजीज, टाइप 2 डायबिटीज और पाचन से जुड़ी समस्याओं का खतरा कम होता है। यह कोलेस्ट्रॉल नहीं बढ़ाता है और कार्बोहाइड्रेट और पोषक तत्वों का अच्छा स्रोत है।प्रोटीन- कुछ लोग ऐसा मानते हैं कि स्वास्थ्य के नजरिये से पास्ता अच्छा नहीं होता है। लेकिन आपको जानकार है हैरानी होगी कि 100 ग्राम पास्ता में 12.5 ग्राम प्रोटीन होता है।

फाइबर से भरपूर

व्हीट पास्ता फाइबर से भरपूर होता है। व्हीट पास्ता से आपको रेगुलर डुरम व्हीट पास्ता से चार गुना फाइबर मिलते हैं जो लगभग 2.5 ग्राम फाइबर होते हैं।