featured यूपी

कृषि योग्य जमीन को चौपट कर रहा यह सुंदर दृश्‍य, जानिए पूरा मामला

कृषि योग्य जमीन को चौपट कर रहा यह सुंदर दृश्‍य, जानिए पूरा मामला

फतेहपुर: यह तस्‍वीर भले ही आपकी आकर्षणता का केंद्र बनी है, लेकिन वास्तविकता तो यह है कि इसके कारण किसानों के जमीनों की उर्वरा शक्ति नष्ट हो रही है।

दरअसल, यह उत्‍तर प्रदेश के फतेहपुर जिले में घरों से निकले हुए सीवर का पानी है, जो नाले से लगातार गिर रहा है और झाग बनकर आकर्षक लग रहा है। मगर, इस झाग को देखकर ही सीवर के प्रदूषित पानी का अंदाजा लगाया जा सकता है। नगर पालिका क्षेत्र में आने वाले हजारों घरों के प्रदूषण युक्त सीवर से कृषि योग्य जमीन बर्बाद हो रही है।

जिलाधिकारी ने दिए जांच के आदेश

इस मामले पर न तो जल निगम के अधिकारी कुछ बोलना चाहते हैं और न ही नगर पालिका के अधिकारी सुनना चाहते हैं। अब ऐसे में सवाल यह है कि आखिर इतने वर्षों से यह सब हो रहा है तो अधिकारी क्या कर रहे थे? अब इस पूरे मामले पर जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे ने जांच के आदेश दिए हैं।

नगर पालिका क्षेत्र में आने वाले लोधीगंज के पास स्थित बेरुई हार से शहर की गंदगी का नाला निकला हुआ है। यहां पर एक पुलिया बनाई गई है, जिससे शहर के अंदर आवागमन बना रहे। स्थानीय लोगों के अनुसार, इस नाले का पानी करीब तीन किलोमीटर दूर मदारीपुर गांव की नहर में गिर रहा है।

दूषित पानी से हो रही फसल की सिंचाई

इस जगह को बड़े पुल के नाम से भी जाना जाता है। इससे नहर में आने वाले पानी से जब सीवर का पानी मिलता है तो वह पानी भी प्रदूषित हो जाता है। इस तरह किसानों के खेतों में जाने वाला पानी दूषित होकर फसल की सिंचाई करता है।

फसल, उपज और जमीन हो रही प्रभावित

प्रदूषित सीवर से किसानों की फसल प्रभावित हो रही है। शुद्ध पानी से सिंचाई न होने के कारण उपज भी कम होती है और किसानों की उर्वरा शक्ति भी घटती जा रही है। यदि समय से इसका निस्तारण हो गया तो आस-पास के कई गांवों को लाभ मिल सकता है। इतना सब होने के बाद भी आज तक जिम्मेदारों ने इसे सुधारने का प्रयास नहीं किया।

“सीवर मामले की जानकारी नहीं थी। संबंधित अधिकारियों को मौके पर भेजकर भौतिक सत्यापन कराया जाएगा। रिपोर्ट के अनुसार इस पर कार्रवाई की जाएगी। यदि किसानों की फसल प्रभावित होती पाई गई तो जो भी विधिक कार्यवाही होगी, उसे किया जाएगा।”

अपूर्वा दुबे, जिलाधिकारी, फतेहपुर

Related posts

शादी के अगले दिन दूल्हा की मौत, शादी में शामिल होने वाले लोग पाए जा रहे कोरोना संक्रमित

Rani Naqvi

यूपी में पानी की बूंद-बूंद सहेजेंगे शासकीय और अर्धशासकीय भवन, जानिए पूरा प्‍लान  

Shailendra Singh

Whatsapp पर लगाई जाती थी जिस्म की बोली, हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट का ‘हाई लेवल नेटवर्क’

Shailendra Singh