featured लाइफस्टाइल

लूज मोशन से एक पल में पाना है छुटकारा तो अपनाएं ये तरीके?

lOSE MOTION लूज मोशन से एक पल में पाना है छुटकारा तो अपनाएं ये तरीके?

लूज मोशन और डायरिया आम बात हो गई है। यह बीमारियां किसी को भी किसी वक्त हो सकती है। इसकी वजह से कभी-कभी इतनी ज्यादा समस्या हो जाती है कि एक पल वह चैन से नहीं बैठ सकता है। बैक्टीरिया और वायरल इंफेक्शन होने से व्यक्ति को दिक्कत ज्यादा होने लगती है।

डायरिया की वजह से डिहाइड्रेशन और शरीर में कमजोरी आ जाती है। अगर इन बीमारियों से एक पल में छुटकरा पाना हैं तो यहां पर बताए गए आसान तरीके से छुटकारा आसानी से पाया जा सकता है। ये रहे नुस्खे

दही- अगर आप को लूज मोशन से छुटकारा पाना है तो दही इसके लिए सबसे आसान तरीक है। एक कटोरी सादी दही या फिर इसमें थोड़ा सा नमक डालकर खा सकते हैं। अगर डायरिया है तो एक हफ्ते तक दिन में दो से तीन पर दही खाएं। दही में अच्छी मात्रा में शरीर को फायदा पहुंचाने वाले वैक्टीरिया होते हैं। जो कि आंत को स्वस्थ बनाने का काम करता है। पाचन क्रिया भी बेहतर हो जाती है।

नारियल पानी- दही के अलावा ताजा नरियल पानी लूज मोशन के लिए कारगर साबित होता है। जब तक आपका लूज मोशन ठीक नहीं हो जाता तब तक दिन में दो से तीन बार पीते रहे। ताजे नरियाल पानी में पोटेशिया और सोडियम जैसे इलेक्ट्रोलाइट्स होते हैं। जो शरीर के संतुलन को बनाए रखने में मदद करते हैं। साथ ही यह डिहाइड्रेशन से भी बचाता है। इसके अलावा नरियाल पानी पीने से शरीर को अमीनो एसिड, फैटी एसिड, विटामिन C, मैग्नीशियम और एंजाइम जैसे आवश्यक पोषक तत्व मिलते हैं, जिससे इम्यूनिटी बढ़ती है।

केला- डायरिया में केला खाना सबसे ज्यादा असरदार माना जाता है। अगर आपको केला खाना पसंद नहीं है तो आप दही में डालकर इसकी स्मूदी भी बना सकते हैं।  एक दिन में 2-3 केला या फिर दिन में दो बार केले की स्मूदी खाने से आराम मिलेगा। केले में पेक्टिन पाया जाता है  जो आंतों में तरल पदार्थ के अवशोषण में मदद करता है जिसकी वजह से लूज मोशन रुकने लगता है।

जीरा पानी- लूज मोशन की समस्या के लिए जीरा पानी भी काफी मददगार सबित होता है। इसके लिए एक पैन में पानी और जीरा डालकर उबालें। ठंडा होने पर इसे छान कर पी लें। जब तक आपका लूज मोशन ठीक नहीं हो जाता तब तक दिन में तीन से चार बार पिएं। जीरे में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं। जो आंत में हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म करते हैं।

Related posts

जानिए कैसे हुआ था देशी रियासतों का विलय, और रोचक तथ्य

mahesh yadav

अगर सर्दियों में आप भी पैरों में मोजे पहन कर सोते हैं तो हो जाएं सावधान, हो सकता है नुकसान !

Rahul

तेजस्वी यादव का दावा, सृजन घोटाले में सुशील मोदी के रिश्तेदार भी शामिल,

Ankit Tripathi